गुजरात : बसों में निजी पेट्रोल पंप से डीजल भराने के चक्कर में यात्रियों की हो थी दुर्गति, घंटों करना पड़ रहा इंतजार

एसटी डिपो पर डीजल पंप बंद, अब तक एसटी निगम कंपनी से सीधे थोक में डीजल मंगवा रहा, खुदरा की तुलना में थोक में अधिक कीमतों के कारण, एसटी निगम अब निजी पेट्रोल पंपों पर डीजल भरने की प्रक्रिया में है

बोडेली में एसटी डिपो में डीजल पंप बंद होने के बाद बोडेली के कई निजी पेट्रोल पंपों पर सुबह से ही एसटी बसों की लंबी कतारें लग रही हैं। निजी पेट्रोल पम्प पर लाइन लगने से यात्रियों का समय भी बर्बाद हो रहा है। साथ ही यात्रियों की स्थिति विकट हो गई है।
आपको बता दें कि अब तक एसटी निगम कंपनी से सीधे थोक में डीजल मंगवा रहा था। लेकिन खुदरा की तुलना में थोक में अधिक कीमतों के कारण, एसटी निगम अब निजी पेट्रोल पंपों पर डीजल भरने की प्रक्रिया में है। ऐसे में बोडेली के कई पेट्रोल पंपों पर सुबह से ही एसटी बसों की लंबी कतारें देखी जा रही हैं। छोटाउदपुर एसटी डिपो की बसों में जहां यात्रियों की भरमार है वहीं पंप पर बसों की कतार से यात्रियों की हालत खराब हो रही है।
जाकारी के लिए बता दें कि छोटाउदेपुर डिपो की करीब 84 बसों में करीब 6000 लीटर डीजल की खपत होती है और बोडेली एसटी डिपो की 55 बसों में करीब 4000 लीटर डीजल की खपत होती है। अब डीजल भरवाने के लिए इन बसों को घंटों लाइन में खड़े रहना पड़ रहा है। छोटाउदेपुर से बस में सवार यात्रियों से बात करने पर पता चला कि हुए बस में घंटों बैठने कर डीजल भरने का इंतजार करना ना सिर्फ समय खाने वाला है बल्कि इससे यात्रियों को बहुत असुविधा हो रही है। वड़ोदरा जाकर ट्रेन पकड़नी हो तो ट्रेन छूट जाती है तो मुसीबत में पड़ जाते हैं। और अगर कोई इलाज के लिए वडोदरा अस्पताल जा रहा है और उसने वहां डॉक्टर से अपॉइंटमेंट लिया है तो वह समय पर नहीं पहुंच पाता रहा है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें