देश में मय्युकोमायरोसिस से सर्वाधिक केस गुजरात में, कई राज्यों में महामारी घोषित हो चुकी

प्रतिकात्मक तस्वीर

देश भर के 25 प्रतिशत केस एक मात्र गुजरात में, अब तक 70 लोगों की जा चुकी है जान

देश भर में कोरोना की दूसरी लहर भारत सहित अन्य कई देशों के लिए काफी खतरनाक साबित हो रही है। हालांकि धीरे-धीरे महामृ की यह दूसरी लहर अपना कहर कम कर रही है। पर इसी के साथ देश भर में दूसरी महामारी ने अपना सर उठा लिया है। ब्लैक फंगस या म्यूकरमायकोसिस नाम की इस बीमारी से देश भर में सभी त्राहि मान चुके है। अब तक देश भर में इस बीमारी के कुल 8800 से भी अधिक केस दर्ज हुये है। जिसमें से 2200 से अधिक यानि की एक चौथाई केस तो अकेले गुजरात में ही है। बीमारी के कारण अब तक गुजरात में 70 लोगों की मौत हो चुकी है। 
सरकर द्वारा जाहीर किए आंकड़ो के अनुसार पूरे देश में अब तक ब्लैक फंगस के 8848 मरीज दर्ज हुये है। जिसमें से अकेले गुजरात में ही 2281 केस है। इसके बाद महाराष्ट्र में 2000 केस दर्ज हुये है। इन दोनों राज्यों में ब्लैक फंगस के केस काफी ज्यादा है। इसके अलावा राजस्थान में 700, मध्यप्रदेश में 720, दिल्ली में 197, हरियाणा में 250, कर्नाटक में 500, तेलंगाना में 350 और आंध्रपरदेश में 910 केस सामने आए है। 
देश भर में सबसे पहले हरियाणा ने ब्लैक फंगस को महामारी घोषित किया था। जिसके बाद राजस्थान सरकार ने भी उसे महामारी में शममिल किया था। इसके बाद केंद्र की सूचना के चलते उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश, गुजरात, चंडीगढ़, हिमाचल, ओरिस्सा, कर्नाटक, तेलंगाना और तमिलनाडु में भी इसे महामारी घोषित किया था। यही नहीं राजस्थान सरकार ने ब्लैक फंगस से पीड़ित मरीजों का मुफ्त में इलाज करने का निर्णय लिया है। ब्लैक फंगस के अलावा व्हाइट फंगस के भी केस सामने आ रहे है। विशेषज्ञों के अनुसार यह वायरस मात्र कोई अंग नहीं पर फेफड़ों और दिमाग को लेकर सभी अंग पर असर करता है। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें