गुजरात : सामूहिक दुष्कर्म का एक और मामला आया सामने, लगातार 18 दिनों तक हुआ कुकर्म

प्रतीकात्मक फाइल फोटो

बोटाद के रानपुर तालुका के आलव गांव में बुबावव गांव की एक युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना आई है सामने

राज्य में इन दिनों अपराधिक मामलों की संख्या में बढ़ोत्तरी देखी जा रही है। राज्य में बहनों-बेटियों की सुरक्षा का मुद्दा लगातार उठाया जा रहा है। ऐसे दुष्कर्म के मामले में उम्रकैद और मौत की सजा सुनाए जाने के बाद भी दोषियों की हवस खत्म होती नजर नहीं आ रही है। बोटाद के रानपुर तालुका के अलव गांव में बुबवाव गांव की एक युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना सामने आई है। बुबवाव गांव की लड़की को अलव गांव का युवक खेत में ले गया जहाँ उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया।
जानकारी के अनुसार बोटाद तालुका में सामूहिक दुष्कर्म की घटना को लेकर पूरे तालुका में कोहराम मच गया है। बुबवाव गांव की 20 वर्षीय लड़की को शराब पीने की आदत थी। इसलिए उसने पास के अलव गांव में रहने वाले इंद्रजीत को बुलाया और शराब मांगी। तो इंद्रजीत ने युवती से कहा कि अगर आपको शराब चाहिए तो अलव में मेरे खेत में आ जाओ। इसके बाद लड़की 9 दिसंबर को शराब लेने इंद्रजीत खाचर के खेत गई थी। बच्ची जब वाडी पहुंची तो वहां इंद्रजीत बब्बभाई खाचर के अलावा सत्यजीत बब्बभाई खाचर और जयवीर जगुभाई खाचर भी मौजूद थे। वाड़ी में तीनों युवकों ने मिलकर युवती को नशा दिया और तीनों युवकों ने नशे में धुत होकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया।
इतना ही नहीं तीनों युवकों ने 9 दिसंबर से 26 दिसंबर तक बच्ची को यार्ड में एक कमरे में बंद कर रखा था। लड़की को एक कमरे में बांधकर नशा करने के बाद तीनों लोगों ने लड़की की पिटाई की और लगातार 18 दिनों तक उसके परिवार वालों को जान से मारने की धमकी दी। जिसके चलते किशोरी ने तीनों युवकों के खिलाफ थाने में जानकारी दी है। इंद्रजीत खाचर, जयवीरभाई खाचर, सत्यजीत खाचर, तीनों युवकों ने मुझ पर सामूहिक अत्याचार करने का आरोप लगाया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें