गुजरात : मेमदपुर गांव का जवान हुआ शहीद, गांववासियों ने दी अंतिम विदाई

(Photo Credit : sandesh.com)

ड्यूटी के वक्त लैंडस्लाइड के कारण हुई जवान की मौत, पूरा परिवार हुआ अंतिम विदाई में शामिल

देश की सरहद पर आए दिन सैनिकों के शहीद होने की खबरे आती रहती है। देश की रक्षा के लिए सैनिक अपनी जान की परवाह किए बिना अपनी ड्यूटी करते है। ऐसे में गुजरात का एक पुत्र भी देश की रक्षा करते हुये सरहद पर शहीद हो गया था। गुजरात के बनासकाँठा के वडगाम के मेमदपुर गाँव का जवान ड्यूटी के दौरान शहीद हुआ था। शहीद जवान की मृतदेह को जब गाँव ले आया गया तो पूरे गाँव में उदासी छा गई। जवान को गार्ड ऑफ ऑनर के साथ अंतिम विदाई दी गई। जिसे देखकर सभी गाँववाले शोकमग्न हुए थे। 
बनासकाँठा के रहने वाले आर्मी जवान जशवंतसिंह जवानजी राठौड़ के शहीद होने की खबर मिलते ही जवान के परिवार में सभी को गहरा सदमा लगा था। जशवंत जम्मू कश्मीर में तैनात था और पिछले दस साल से आर्मी में काम कर रहे थे। जम्मू में जब वह अपनी ड्यूटी पर तैनात थे, तभी लैंडस्लाइड के कार्न उनकी मौत हुई थी। 30 साल के जशवंत ने अपने पिता के नक्शेकदम पर चलते हुये आर्मी को जॉइन किया था। जशवंत के मृत्यु की खबर सुनते ही सभी गाँववाले जशवंत को अपना अंतिम प्रणाम करने आए थे। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें