ऑक्सीजन नहीं मिलने पर दसाड़ा के विधायक की फटकार, कहा - लाश के साथ रिश्तेदारों को कलेक्टरालय भेज दूंगा!

(Photo Credit : gstv.in)

राज्य सरकार और स्थानीय प्रशासन से ऑक्सीजन के लिए गुहार लगाई

गुजरात में कोरोना संक्रमण ने महामारी का रूप धारण किया है। ऐसे में अब दवाइयों के साथ ऑक्सीजन का भी संकट गहराने लगा है। गुजरात के अहमदाबाद, सूरत, मोरबी, वडोदरा, राजकोट सहित कई शहरों में ऑक्सीजन की कमी का सामना करना पड़ रहा है। मरीजों की जान पर ऑक्सीज़न की कमी से जोखिम खड़ा हो गया है। विशेष तौर से ग्रामीण क्षेत्रों में इंफ्रास्ट्रक्चर नहीं होने के कारण लोगों की हालत खराब हो गई है। राज्य के अलग-अलग क्षेत्रों के विधायकों ने राज्य सरकार से ऑक्सीजन  के लिए ऑक्सीजन की मांग की है। 
इन सभी में एक और नाम सुरेन्द्र नगर के दसाडा क्षेत्र के विधायक नौशाद सोलंकी का भी जुड़ गया है। नौशाद सोलंकी ने कलेक्टर को लिखित में यह मांग की है कि इलाके के प्राथमिक आरोग्य केंद्र के लिए ऑक्सीज़न की व्यवस्था की जाये। इसके अलावा उन्होंने ट्वीट करके यह भी चैतावनी दी कि यदि ऑक्सीजन की व्यवस्था नहीं हुई और उसकी वजह से किसी की मृत्यु हुई तो वह मृतक की लाश और उसके परिवारजनों को कलेक्टर कार्यालय पर जाने को कह देंगे। 
दसाडा विधानसभा बैठक से कांग्रेस के विधायक नौसाद सोलंकी ने यह भी कहा है कि दसाडा में इमरजेंसी सेवा के लिए ऑक्सीजन की विशेष जरूरत है। कलेक्टर कार्यालय से ऑक्सीजन वितरण के लिए जो सूची जारी की गई है, उसमें दसाडा का नाम भी नहीं है। पर फिलहाल कोरोना महामारी के इलाज के लिए और इमर्जंसी के लिए ऑक्सीजन की काफी आवश्यकता है। उन्होंने ट्विटर के माध्यम से संदेशे में सुरेंद्र नगर कलेक्टर उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल और जयंती रवि तथा के जिलाधिकारी को टेग किया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें