गुजरात के 36 शहरों में इस तारीख तक बढ़ा कर्फ़्यू

12 मई तक बढ़ा कर्फ़्यू, मुख्यमंत्री की कोर कमिटी की मीटिंग में हुआ फैसला

राज्य में बढ़ रहे कोरोना के लगातार केसों को नियंत्रित करने के लिए गुजरात सरकार ने कर्फ़्यू को और भी बढ़ाने का फैसला किया है। मुख्यमंत्री विजय रूपानी की अध्यक्षता में बैठी कोर कमिटी की मीटिंग में कुछ महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए है। जिसके तहत अब 6 से लेकर 12 मई तक कर्फ़्यू को बढ़ाया गया है। 
इसके पहले 5 मई तक जाहीर किए कर्फ़्यू में गुजरात के महानगरों सहित 29 शहरों में कर्फ़्यू था। पर अब इन 29 शहरों में 7 और शहर को जोड़ दिया गया है। अब गुजरात के डिसा, अंकलेश्वर, वापी, मोडासा, राधनपुर, कड़ी और विसनगर सहित 36 शहरो में रात के 8 बजे से सुबह के 6 बजे तक कर्फ़्यू रहेगा। इस दौरान सभी आवश्यक सेवाएँ चालू रहेगी। इसके अलावा अनाज-करियाना की दुकान, सब्जी, फल-फलादी, मेडिकल स्टोर, मिल्क पार्लर, बेकरी तथा खाद्यपदार्थों की दुकान खुली रहेगी। इसके अलावा सभी 36 शहरों में उद्योग, उत्पादन एकम, कारखाने और बांधकाम प्रवृतियाँ चालू रहेगी। 
सभी निजी ऑफिस 50 प्रतिशत स्टाफ की मौजूदगी के साथ मास्क और सोशल डिस्टेन्सिंग के नियमों का पालन करते हुये चालू रहेगे। इस दौरान जीएसटी विभाग द्वारा कभी भी चेकिंग आ सकती है, जिसमें नियमों का भंग करने वाली निजी ऑफिस के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी। कोरोना से जुड़े किसी भी काम से प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से जुड़े सभी सेवा शुरू रहेगे। मेडिकल, पेरामेडिकल तथा अन्य आनुषंगिक सेवा, ऑक्सीज़न उत्पादन और वितरण सेवा भी शुरू रहेगी। 
मुख्यमंत्री द्वारा निर्देश दिये गए है की सभी सरकारी, अर्ध सरकारी, बोर्ड, कॉर्पोरेशन, बेंक, फायनान्स संबंधित सेवा, केश ट्रांजेकशन सेवा, स्टॉक ब्रोकर्स, इन्स्योरंस कंपनियाँ तथा निजी ऑफिसों में 50 प्रतिशत स्टाफ ही बुलाये जाये। इसके अलावा राज्य में उत्पादन प्रवृति और उद्योग शुरू रहे इसलिए उनके रो-मटिरियल उत्पादित करने वाली इकाइयां भी शुरू रहेगी और उनके स्टाफ की वाहनव्यवस्था भी शुरू राखी जाएगी। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें