छत्तीसगढ़ : पैसों के लेनदेन में एक शख्स ने की लड़की की हत्या, चार दिनों तक कार में छुपाकर रखी लाश

प्रतिकारात्मक तस्वीर

मामला सिविल लाइन थाने क्षेत्र का, शेयर मार्केट में पैसे लगाने को लेकर शुरू हुआ था विवाद

दिल्ली में हुआ श्रद्धा हत्याकांड अब शांत भी नहीं हुआ था, उस मामले के आरोपी को अभी तक सजा भी नहीं मिली की अब ऐसा ही एक और मामला छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में भी देखने को मिली है। बिलासपुर के सिंधी कॉलोनी क्षेत्र मे एक युवती का शव मिला है। कस्तूरबा नगर के एक घर के यार्ड मे शव को कार मे छुपा दिया गया था। मामला सिविल लाइन थाने क्षेत्र का है। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने एक संदिग्ध को गिरफ्तार कर उससे पूछताछ शुरू कर दी है। इस घटना के सामने आने के बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है। आरोपी ने  लाश को ठिकाने लगाने के लिए उसके शव को 4 दिनों तक अपनी कार में रखा लेकिन कार से उठ रही बदबू ने इस पूरे हत्या कांड का राज खोल दिया।

क्या है पूरा मामला


मामले में मिली जानकारी के अनुसार जिस लड़की का शव मिला है उसकी पहचान भिलाई सेक्टर 7 की रहने वाली प्रियंका सिंह के रूप में हुई है जो बिलासपुर के कोतवाली थाना क्षेत्र के टिकरापारा इलाके में किराये के मकान में रह कर प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रही थी। उसकी मुलाकात मेडिकल संचालक आशीष साहू से हुई। शुरुआती जान पहचान धीरे-धीरे दोस्ती में बदल गई। पुलिस द्वारा हुए प्राथमिक पूछताछ में आरोपी आशीष साहू ने बताया कि दोनों मिलकर शेयर मार्केट में पैसे लगाते थे, जिसमे लंबा नुकसान हुआ था।न इस बीच पैसे के लेनदेन को लेकर दोनों के बीच खटपट शुरू हो गई। 

इस कारण हुई हत्या


आरोपी ने पुलिस को बताया कि प्रियंका लागातार उस पर पैसे वापस करने का दबाव बना रही थी। इसी पर बात करते हुए विवाद इतना गरमा गया कि आरोपी युवक ने झगड़े के दौरान उसने युवती की गला दबाकर हत्या कर दी। दयालबंद के पास हुई इस घटना के बाद युवक गाड़ी में लाश के साथ कस्तूरबा नगर स्थित अपने घर पर पहुंचा और कार के लाश के साथ ही पार्किंग में खड़ा कर दिया। प्रियंका के परिजनों ने 16 नवंबर को सिटी कोतवाली थाना पहुंचकर उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। परिजनों के अनुसार, प्रियंका 24 घंटे से घर नही पहुंची है। इसके बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू दी।

इस तरह खुला राज


आपको बता दें कि ये पूरा मामला उस समय खुला जब कार में रखी लाश से बदबू उठने लगी। 4 दिनों के कार से बदबू उठानी शुरू हो गई। मामले की शिकायत के बाद पुलिस मौके पर पहुंची। कार खोलकर देखा तो होश उड़ गए। जिसके बाद आरोपी आशीष साहू को हिरासत में लिया गया। इस घटना के बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है। हालांकि पुलिस इस मामले में अन्य पहलू पर भी जांच कर रही है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें