दिल्ली से हिरासत में लिए पाकिस्तानी आतंकवादी का बड़ा खुलासा, जानें क्या था मास्टरप्लान

मंगलवर को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल द्वारा पकड़े गए शंकास्पद पाकिस्तानी आतंकवादी अशरफ ने पूछताछ के दौरान कई चौंका देने वाले खुलासे किए है। पूछताछ के दौरान जब आतंकवादी को एक संदिग्ध आतंकवादी की तस्वीर दिखाई गई तो उसने बताया की साल 2011 में हुये हाइकोर्ट के बाहर के हमलों में उसकी भी भूमिका थी। हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं हौ है की हत्या में वह शामिल है या नहीं। 
विस्तृत जानकारी के अनुसार, आतंकवादी ने साल 2011 के करीब आईटीओ पर स्थिति पुलिस हेडक्वार्टर की पुन:प्रक्रिया की थी। इसके अलावा उनसे ISBT की इन्फॉर्मेशन भी पाकिस्तानी हेंडलर्स को भेजी थी। पाकिस्तानी आतंकवादी ने अब तक जो भी खुलासे किया है, उसके अनुसार साल 2009 में जम्मू एंड कश्मीर के बस स्टेंड पर हुये ब्लास्ट में उसकी भी भूमिका थी। 
इसके अलावा दिल्ली सरकार ने साल 2011 में दिल्ली के हाईकोर्ट ब्लास्ट की रिक्स की थी। इस हमले के दौरान 2 आतंकी थे, जिसमें एक का नाम गुलाम सरोवर था। जम्मू एंड कश्मीर में 6 जवानों की निर्मम हत्या करने की बात भी आतंकी ने कबुली थी। इसके अलावा आईएसआई के ऑफिसर के द्वारा कहने से जम्मू एंड कश्मीर में हथियार भी सप्लाई करने गए थे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें