एशियन रोइंग चैंपियनशिप : अरविंद सिंह ने जीता गोल्ड

(Photo Credit : IANS)

बान चांग (थाईलैंड), 12 दिसम्बर (आईएएनएस)| भारत के अरविंद सिंह ने रविवार को एशियाई रोइंग चैंपियनशिप में लाइटवेट मेन्स सिंगल स्कल्स में अपने विरोधियों को (7:55.942 के समय) हराकर स्वर्ण पदक जीता। थाईलैंड में आयोजित हुई एशियाई रोइंग चैंपियनशिप में भारत के उत्तर प्रदेश के निवासी अरविंद ने प्रतिभाग किया था। अरविंद ने लाइटवेट सिंगल स्पर्धा में भाग लिया था, वहां अच्छा प्रदर्शन करते हुए अरविंद ने फाइनल में जगह बनाई और रविवार सुबह फाइनल मुकाबले में प्रतिभाग करते हुए 7:55:942 मिनट में दो किलोमीटर की दूरी पार करते हुए प्रथम स्थान प्राप्त कर स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिया।
भारत ने पुरुषों के लाइटवेट डबल स्कल्स, पुरुषों के क्वाड्रापुल स्कल्स और पुरुषों के कॉक्सलेस फोर में रजत पदक जीते। इस प्रकार, भारत ने दो स्वर्ण और चार रजत पदक के साथ प्रतियोगिता का अंत किया। अरविंद सिंह पुरुषों के लाइटवेट डबल स्कल्स में अर्जुन लाल जाट के साथ टोक्यो ओलंपिक में 11वें स्थान पर रहे थे। अरविन्द की यह एक शानदार दौड़ थी क्योंकि उन्होंने स्वर्ण पदक के लिए उज्बेक और चीनी स्कलरों को शिकस्त दी थी। टोक्यो ओलंपिक के दौरान भी अरविंद ने रोइंग लाइटवेट डबल्स मेंस स्कलस में अपने साथी अर्जुन लाल के साथ प्रतिभाग किया था। हालांकि वहां अरविंद पदक नहीं जीत पाए थे, लेकिन उन्होंने अपनी प्रतिभा का शानदार प्रदर्शन किया था।
लाइटवेट मेन्स डबल स्कल्स में भारत के आशीष फुगट और सुखजिंदर सिंह ने रजत पदक जीता था। पुरुषों की क्वाड्रपल स्कल्स में भारत के बिट्टू सिंह, जकार खान, मंजीत कुमार और सुखमीत सिंह ने रजत पदक जीता। पुरुषों के कॉक्सलेस फोर्स फाइनल में, भारत के जसवीर सिंह, पुनीत कुमार, गुरमीत सिंह और चरणजीत सिंह ने (6:51.661 का समय लेकर) रजत पदक जीता। क्वाड्रपल स्कल्स और लाइट वेट डबल स्कल्स के फाइनल में जगह बनाने वाली भारतीय महिला रोवर अपनी-अपनी दौड़ में पांचवें स्थान पर रहीं। रोइंग फेडरेशन ऑफ इंडिया के महासचिव एमवी श्रीराम ने रविवार को एक विज्ञप्ति में कहा " प्रतियोगिता में भारतीय खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने वहां मौजूद सभी लोगों का अभिनंदन किया।"
(Disclaimer: यह खबर सीधे समाचार एजेंसी की सिंडीकेट फीड से पब्लिश हुई है। इसे लोकतेज टीम ने संपादित नहीं किया है।)

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें