बजट पेश करने के पहले बदली एक और परंपरा, हलवा सेरेमनी की जगह खिलाई गई मिठाई

पिछली बार की तरह इस बार भी पेश होगा पेपरलेस बजट

वित्त मंत्री द्वारा 1 फरवरी को केन्द्रीय बजट 2022-23 पेश होएन जा रहा है। पिछली बार की तरह इस बार भी वित्त मंत्री द्वारा पेपरलेस बजट पेश किया जाएगा। हालांकि इस साल के बजट में भी एक पुरानी परंपरा टूट गई थी। हर साल बजट की अंतिम क्रिया शुरू करने के पहले होने वाली हलवा सेरेमनी इस बात आयोजित नहीं की गई। जिसके लिए सरकार द्वारा निवेदन भी जारी किया गया था। 
सरकार द्वारा जारी निवेदन में कहा गया कि वर्तमान महामारी की स्थिति को देखते हुये हलवा सेरेमनी नहीं हुई थी। हलवा सेरेमनी के स्थान पर कोविड प्रोटोकॉल को देखते हुये मुख्य कर्मचारियों को मिठाई खिलाई गई थी। वित्त मंत्री द्वारा संसद में बजट पेश करने के बाद ही यह सदस्य अपने परिवार तथा मित्रों से मिल पाते है। इसका मुख्य हेतु बजट को गोपनीय रखने का होता है। 
पिछली बार की तरह इस बार भी बजट पेपर लेस होगा। यही नहीं संसदसभ्य तहत आम जनता भी आसानी बजट के जरूरी दस्तावेज़ हासिल कर सके, इसलिए लॉंच की गई यूनियन बजट मोबाइल एप का इस्तेमाल किया जा सकेगा। जिसे आप आसानी से एण्ड्रोइड या iOS प्लेटफॉर्म पर पा सकेंगे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें