AM/NS India ने एस्सार समूह से पोर्ट और पॉवर एसेट्स का 16,500 करोड़ रुपये का अधिग्रहण पूर्ण किया

एएम/एनएस इंडिया

एएम/एनएस इंडिया ने एस्सार ग्रूप से दो पोर्ट एसेट्स(बंदरगाह संपत्तियों) और एक पॉवर प्लांट(बिजली संयंत्र) का अधिग्रहण करने के लिए वित्तीय कार्यवाही पूर्ण कर ली

दुनिया के दो प्रमुख स्टील(इस्पात) उत्पादक आर्सेलरमित्तल और निप्पॉन स्टील के संयुक्त उद्यम आर्सेलरमित्तल निप्पॉन स्टील इंडिया (AM/NS India) ने आवश्यक कॉर्पोरेट और नियामक अनुमोदन प्राप्त करने के बाद एस्सार ग्रूप से अंदाजित 16,500 करोड़ रुपये के शुद्ध मूल्य पर दो पोर्ट एसेट्स(बंदरगाह संपत्तियों) और एक पॉवर प्लांट(बिजली संयंत्र) का अधिग्रहण करने के लिए वित्तीय लेनदेन कार्यवाही पूर्ण कर ली है।

उत्पादन और लॉजिस्टिक्स चैन के कूटनीतिक एकीकरण को मजबूत करेंगे  


AM/NS India द्वारा पूरी तरह से वित्तपोषित यह लेनदेन, एस्सार के साथ अगस्त-2022 के समझौते का पालन करता है। जिसमें कई बिजली और इंफ्रास्ट्रक्चर(बुनियादी ढांचे) की संपत्ति का अधिग्रहण किया गया है, जो या तो कैप्टिव हैं या AM/NS India के संचालन से संबद्ध हैं। यह कंपनी की उत्पादन और लॉजिस्टिक्स चैन के कूटनीतिक एकीकरण को मजबूत करेंगे। निम्नलिखित नकदी पैदा करने वाली एसेट्स(परिसंपत्तियां) अब पूरी तरह से AM/NS India के स्वामित्व की है और इसीके द्वारा संचालित हैं और कंपनी के लिए तुरंत आपरेशनल सिनर्जी उत्पन्न करने की उम्मीद है।  
• AM/NS India के स्टील प्लांट के निकट हजीरा, गुजरात में हर मौसम में काम आने वाले, डीप ड्राफ्ट बल्क पोर्ट टर्मिनल पर 25 MTPA जेटी, कैप्टिव
• पारादीप, ओडिशा में एक 12 MTPA गहरे पानी की जेट्टी के साथ समर्पित कन्वेयर जो AM/NS India के पारादीप पेलेट प्लांट से 100% पेलेट शिपमेंट का संचालन करता है।  
• हजीरा में 270 MW का मल्टी फ्यूल(बहु-ईंधन) पॉवर प्लांट, जिसका AM/NS India के निकटवर्ती इस्पात संयंत्र के साथ दीर्घकालिक बिजली खरीद समझौता है।

लॉजिस्टिक्स सप्लाई चैन को मजबूत करने के हमारे चल रहे प्रयासों में एक सीमाचिह्न


AM/NS India के मुख्य कार्यकारी अधिकारी  दिलीप ओम्मेन (CEO) ने कहा कि, "यह लेनदेन AM/NS India की ऊर्जा और लॉजिस्टिक्स सप्लाई चैन को मजबूत करने के हमारे चल रहे प्रयासों में एक सीमाचिह्न है। इन संपत्तियों का स्वामित्व, हजीरा में 60,000 करोड़ रुपये की क्षमता विस्तरण योजना के साथ आगे बढ़ने के हमारे निर्णय का समर्थन करता है। जिसमें AM/NS India के लिए गुजरात और ओडिशा, दोनों पोर्ट एसेट्स में बढ़ते थ्रूपुट से अतिरिक्त तालमेल हासिल करने की क्षमता शामिल है।"

गांधार-हजीरा ट्रांसमिशन लाइन का अधिग्रहण भी नियत समय में पूरा होने की उम्मीद


आवश्यक विनियामक अनुमोदन प्राप्त हो जाने के बाद, अगस्त-2022 के समझौते में शामिल शेष परिसंपत्तियां(हजीरा में 515 MW का गैस आधारित पॉवर प्लांट, विशाखापत्तनम में 16 MTPA  तमाम मौसम में काम आने वाले डीप ड्राफ्ट टर्मिनल और 100 किलोमीटर गांधार-हजीरा ट्रांसमिशन लाइन) का अधिग्रहण भी नियत समय में पूरा होने की उम्मीद है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें