अफगानिस्तान: न कोई पढ़ाई, न कोई डिग्री, बन गए गवर्नर

(Photo Credit :gujaratsamachar.com)

अफगानिस्तान में अब सत्ता तालिबान के हाथ में आ चुकी है। इसके बाद अफगानिस्तान में नई सरकार बनाने की कवायद के तहत हाजी मोहम्मद इदरीस को अफगानिस्तान के केंद्रीय बैंक का कार्यवाहक गवर्नर नियुक्त किया है।
आपको बता दें कि दुनिया के अधिकांश देशों ने हाल ही में अफगानिस्तान के साथ व्यापार बंद कर दिया है और अमेरिका ने केंद्रीय बैंक की संपत्ति में अरबों डॉलर भी जब्त कर लिए हैं। जिन्हें अफगानिस्तान के केंद्रीय बैंक का गवर्नर नियुक्त किया गया है उस हाजी मोहम्मद इदरीस  के पास कोई उच्च शिक्षा या वित्त नहीं है। इस पद पर उन्हें नियुक्त किया गया है क्योंकि वह लंबे समय से अफगानिस्तान के वित्त के प्रभारी हैं।
इससे पहले, हाजी इदरीस तालिबान नेता मुल्ला अख्तर मंसूर के वित्तीय मामलों के प्रभारी थे, जो 2016 में अमेरिकी हवाई हमले में मारे गए थे। तालिबान का कहना है कि हाजी इदरीस ने भले ही किताबों का अध्ययन न किया हो, लेकिन वह अपना काम बखूबी कर सकता है।
गौरतलब है कि वर्तमान समय में देश की अर्थव्यवस्था में सुधार करना तालिबान की प्राथमिकता होगी। क्योंकि अफगानिस्तान को दी जाने वाली सभी आर्थिक सहायता फिलहाल रोक दी गई है। वहीं दूसरी ओर लोगों को काम पर वापस लाने के लिए उन्हें समय पर भुगतान करना भी जरूरी है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें