आत्महत्या करने जा रही महिला के लिए देवदूत बनकर आई 'अभयम'

महिला हेल्पलाईन 181

परिवार को बिना बताए प्रेमी को मिलने पहुंची थी युवती, प्रेमी ने धुत्कारा तो किया आत्महत्या करने का विचार

महामारी के दिनों से राज्य भर में आत्महत्या के केसों में काफी ज्यादा इजाफा देखने मिला है। विभिन्न कारणों से कई लोगों ने महामारी के इस समय में अपनी जीवनलीला समाप्त करने के निर्णय लिया था। कुछ इसी तरह व्यारा के सोनगढ़ के पास रहने वाली एक युवती ने भी आत्महत्या करने के विचार से रेलवे ट्रेक पर बैठ गई थी। हालांकि सही समय पर वहाँ अभयम हेल्पलाइन की टीम ने पहुँचकर युवती की जान बचा ली थी। 
विस्तृत जानकारी के अनुसार, बारडोली के रेलवे ट्रेक पर एक युवती को बैठा देख एक व्यक्ति ने उनसे वहाँ बैठे होने की वजह पूछी थी। पर युवती ने कोई उत्तर नहीं दिया। जिसके चलते व्यक्ति ने 181 हेल्पलाइन को फोन किया था। व्यक्ति द्वारा फोन आने पर तुरंत ही अभयम टीम वहाँ पहुंची और उन्होंने उससे बात की थी। युवती ने बताया कि वह एक लड़के से प्यार करती थी। जिसे मिलने के लिए वह अपने परिवार को बिना बताए उससे मिलने आ गई थी। पर युवक ने उसके प्रेम का अस्वीकार कर दिया और उसे वहाँ से भगा दिया। जिसके चलते उसने आत्महत्या करने का निर्णय किया। 
इस पर अभयम हेल्पलाइन ने उसे समजाया कि इस तरह से अपने जीवन को बिगाड़ना सही नहीं है। युवक के साथ जो उसे प्रेम हुआ वह क्षणिक था, उसे उसके साथ कोई लगाव नहीं था। आत्महत्या करने से उसके परिवार पर इसकी क्या असर होगी इस बारे में महिला को समजाया गया। जिसके बाद युवती परिवार के पास जाने को तैयार हुई थी। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें