उत्तराखंड में आप की सरकार बनने पर 300 यूनिट बिजली मुफ्त : केजरीवाल

(File Photo : IANS)

विधानसभा चुनावों के पहले शुरू हुये पार्टियों के चुनावी जुमले

नई दिल्ली, 11 जुलाई (आईएएनएस)| उत्तराखंड में कुछ महीने बाद विधानसभा चुनाव होने हैं। यही कारण है कि सभी प्रमुख पार्टियां अपनी अपनी तैयारियों में जुटी हैं। इधर, आम आदमी पार्टी (आप) ने भी घोषणा की है कि यदि उत्तराखंड में उनकी सरकार बनती है तो प्रत्येक परिवार को 300 यूनिट बिजली मुफ्त दी जाएगी। आप के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने ऐलान करते हुए कहा, "हमारी सरकार सभी पुराने बिल माफ कर नए सिरे से शुरुआत करेगी। 24 घंटे बिजली देगी। उत्तराखंड के लोग भी चाहते हैं कि दिल्ली की तरह अब उत्तराखंड में भी विकास हो।" उन्होंने कहा, "मैं जो कहता हूं, वह चुनावी जुमला नहीं होता, यह केजरीवाल की गारंटी है।"
उत्तराखंड के बिजली मंत्री ने 100 यूनिट बिजली फ्री और 100 से 200 यूनिट बिजली हाफ रेट पर देने का ऐलान किया था। केजरीवाल ने कहा कि यह ऐलान भी जुमला निकला। उत्तराखंड के सामने दो मॉडल हैं- पहला, जिसमें सरकारें घाटे में चलती हैं व भ्रष्टाचार होता है और दूसरा, नफे में सरकार है, शानदार स्कूल और अस्पताल बन रहे हैं। आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, "उत्तराखंड को हम देवभूमि मानते हैं। भगवान ने उत्तराखंड को देने में कोई कसर नहीं छोड़ी। भगवान ने सब कुछ दिया। उत्तराखंड में नदियां हैं, पहाड़ हैं, पेड़ हैं, वनस्पति हैं, जड़ी बूटियां हैं। उत्तराखंड में मेहनती लोग हैं, अच्छे लोग हैं, ईमानदार लोग हैं, लेकिन उत्तराखंड के नेताओं ने और उत्तराखंड की पार्टियों ने उत्तराखंड को बर्बाद करने में कोई कसर नहीं छोड़ी।"
आप प्रमुख ने कहा, "अभी हम देख रहे हैं कि सत्ताधारी पार्टी के पास सीएम ही नहीं है। एक बनता है, फिर सत्ताधारी पार्टी को लगता है कि यह निकम्मा है, फिर दूसरे को बनाते हैं और कहते हैं कि नहीं, यह भी निकम्मा है। मेरे ख्याल से 70 साल के भारत के इतिहास में यह पहली बार हो रहा होगा कि कोई पार्टी खुद ही कहती है कि हमारा सीएम बेकार है, वैसे तो विपक्ष वाले कहते हैं कि यह पार्टी या सीएम खराब है, लेकिन यह खुद ही कह हे हैं कि हमारा सीएम खराब है और अब इसको हम बदल रहे हैं।"
(Disclaimer: यह खबर सीधे समाचार एजेंसी की सिंडीकेट फीड से पब्लिश हुई है। इसे लोकतेज टीम ने संपादित नहीं किया है।)

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें