क्रिकेट : अब से खेल भावना के खिलाफ नहीं माना जायेगा मांकडिंग, गेंद पर लार का उपयोग प्रतिबंधित

क्रिकेट : अब से खेल भावना के खिलाफ नहीं माना जायेगा मांकडिंग, गेंद पर लार का उपयोग प्रतिबंधित

आईसीसी ने बदले खेल के कई नियम, अगले महीने से होंगे लागू

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने 1 अक्टूबर से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में खेलने की स्थिति में कुछ बदलावों को लागू करने का फैसला किया है। कोरोना काल में आईसीसी ने खिलाड़ियों को संक्रमण से बचाने के लिए गेंद को चमकाने के लिए लार के इस्तेमाल पर रोक लगा दी थी। अब आईसीसी ने इस प्रतिबंध को स्थायी कर दिया गया है। ICC ने लार के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा करते हुए कहा कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में गेंद को चमकाने के लिए लार के इस्तेमाल पर कोरोना काल में पिछले दो साल से अस्थायी रूप से प्रतिबंध लगा दिया गया था। अब हमें लगता है कि इस प्रतिबंध को स्थायी करने की जरूरत है। इसके अलावा आईसीसी ने अपने खेलने के हालात में भारी बदलाव किया है। जिसे अब क्रिकेट में लागू किया जाएगा।

मांकडिंग को लेकर हुआ बड़ा बदलाव


आपको बता दें कि ICC की मुख्य कार्यकारी समिति ने BCCI अध्यक्ष और पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली की अध्यक्षता वाली क्रिकेट समिति द्वारा की गई सिफारिशों को स्वीकार कर लिया। इसके साथ ही क्रिकेट के नियमों में सबसे विवादास्पद मांकडिंग में बदलाव करते हुए क्रिकेट की सर्वोच्च संस्था आईसीसी ने कहा कि जब कोई गेंदबाज गेंद फेंकने से पहले क्रीज छोड़ने वाले गैर-स्ट्राइकर बल्लेबाज को रन आउट करता है, तो इसे 'अनुचित' और गैर-खेल के समान नहीं माना जायेगा। अब तक इस प्रकार के रनआउट को 'अनफेयर प्ले' सेक्शन में शामिल किया जाता था, अब इसे हटा दिया गया है। इसे अब 'रनआउट' सेक्शन में शामिल किया जाएगा।

कैच आउट होने की सूरत में क्या बदला नियम

इसके अलावा जब कोई बल्लेबाज आउट हो जाता है तो उसकी जगह पर आने वाले नए बल्लेबाज को अनिवार्य रूप से स्ट्राइक लेनी पड़ती है। इससे पहले, यदि किसी बल्लेबाज ने हवा में एक शॉट मारा था और दोनों बल्लेबाज कैच लेने से पहले एक-दूसरे को पास कर चुके थे, तो आने वाले बल्लेबाज को नॉन-स्ट्राइक एंड पर जाना पड़ता था।
Tags: Cricket