खाद्य पदार्थों के निर्यात का खूब चल रहा कारोबार, भारत ने ब्राजिल को पछाड़ा

खाद्य पदार्थों के निर्यात का खूब चल रहा कारोबार, भारत ने ब्राजिल को पछाड़ा

अरब दुनिया में सबसे बड़ा खाद्य आपूर्तिकर्ता बना भारत, पिछले 15 साल में पहली बार भारत पहले स्थान पर पहुंचा

देश के लिए एक्सपोर्ट के मोर्चे पर बड़ी खबर आई है। भारत ने अरब देशों को फूड एक्सपोर्ट करने के मामले में ब्राजील को पीछे छोड़ दिया है और ऐसा बीते 15 सालों में पहली बार हुआ है। अरब ब्राजील चेंबर ऑफ कॉमर्स ने ये जानकारी दी है। ऐसा होने की वजह ये है कि कोविड-19 महामारी की वजह से साल 2020 में ट्रेड फ्लो में बाधा आई। अरब-ब्राजील चैंबर ऑफ कॉमर्स द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, 2020 में कोविड महामारी के कारण अरब और ब्राजील के बीच व्यापार में गिरावट आई।  एक निजी समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, अरब देश ब्राजील के लिए सबसे महत्वपूर्ण व्यापारिक भागीदार हैं।  लेकिन कोरोना महामारी के दौरान वैश्विक लॉजिस्टिक्स में व्यवधान के कारण ब्राजील ने इन देशों के साथ व्यापार से दूरी बना ली और भारी नुकसान उठाना पड़ा।
जानकारी के अनुसार पिछले साल 2020 में 22 अरब देशों के कुल कृषि व्यवसाय निर्यात में ब्राजील की हिस्सेदारी महज 8.15 फीसदी थी, जबकि भारत की हिस्सेदारी बढ़कर 8.25 फीसदी हो गई। जहां पहले ब्राजील के जहाज एक महीने में सऊदी अरब पहुंचते थे, अब उन तक पहुंचने में दो महीने लग जाते हैं। जबकि भारत इसके बहुत करीब है, यह केवल एक सप्ताह में फल, सब्जियां, चीनी, अनाज और मांस वितरित करता है। ब्राजील से कम निर्यात के कारण, सऊदी अरब ने अपने ही देश में उत्पादन पर जोर दिया और भारत जैसे अन्य विकल्पों से आयात को प्रोत्साहित किया।
भारत ने इस मार्केट पर अच्छी तरह से अपना प्रभुत्व जमा लिया है जबकि ब्राजील का इस मामले में असर कम हो गया है। अरब लीग के मामले में ब्राजील एग्रीकल्चर एक्सपोर्ट को देखें तो ये पिछले साल सिर्फ 1.4 फीसदी की दर से बढ़ा जो पिछले साल 8.17 अरब डॉलर रहा. वहीं इस साल के जनवरी और अक्टूबर के बीच ब्राजील का कुल व्यापार 6.78 बिलियन डॉलर का रहा है, यानी इसमें 5.5 फीसदी का इजाफा देखा गया। चेंबर के डेटा के मुताबिक ऐसा लॉजिस्टिक समस्याओं के कारण हुआ है।

Related Posts