ट्वीटर पर वेंकटेश प्रसाद को याद दिलाने आया था 'लड़ाई', प्रसाद ने ऐसा दिया जवाब कि ट्वीट डिलीट कर भागा पाकिस्तानी

ट्वीटर पर वेंकटेश प्रसाद को याद दिलाने आया था 'लड़ाई', प्रसाद ने ऐसा दिया जवाब कि ट्वीट डिलीट कर भागा पाकिस्तानी

एक पाकिस्तानी यूजर मुराद ने वेंकटेश पर कटाक्ष किया और उन्हें 1996 विश्व कप के दौरान आमिर सोहेल के साथ हुए 'लड़ाई' की याद दिलाई

बीजेपी के पूर्व प्रवक्ता नुपुर शर्मा के बयान के बाद देश भर में हंगामा मचा हुआ है। मुस्लिम समुदाय के लोग सड़कों पर आ कर पत्थरबाजी कर रहे है। लोग नुपुर शर्मा का सर धड से अलग करने की बात कर रहे हैं। इन सबके बीच कुछ हस्तियों ने ट्वीटर के माध्यम से अपनी अपनी रे भी व्यक्त की है। इन्ही में से एक हैं भारत के पूर्व तेज गेंदबाज वेंकटेश प्रसाद। प्रसाद ने नूपुर शर्मा पर दिए गए अपने बयान को लेकर सुर्खियों में हैं। पूर्व भारतीय क्रिकेटर वेंकटेश प्रसाद पैगंबर मुहम्मद पर बयान के बाद बीजेपी से निलंबित नेता नूपुर शर्मा के खुलकर सपोर्ट में आए हैं। उन्होंने बेलगावी में एक मस्जिद के बाहर नूपुर के पुतले को फांसी पर लटकाए जाने को लेकर प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि विश्वास नहीं हो रहा है कि यह 21वीं सदी का भारत है। उनके बयान पर सोशल मीडिया पर तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। इन सब में एक पाकिस्तानी यूजर मुराद ने वेंकटेश पर कटाक्ष किया और उन्हें 1996 विश्व कप के दौरान आमिर सोहेल के साथ हुए 'लड़ाई' की याद दिलाई। हालांकि इसके बाद अपने मूड में बैठे वेंकटेश का जवाब नहीं सह पाया और अपना ट्वीट डिलीट कर रफूचक्कर हो गया है। अब पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज का ट्वीट वायरल हो रहा है।
आपको बता दें कि अंदाजा लगाया जा रहा है कि मुराद ने वेंकटेश को  96 के विश्व कप में आमिर सोहेल द्वारा लगाये गए चौके और उसके बाद की प्रतिक्रिया के बारे में याद दिलाने की कोशिश की थी। जिसके जवाब में प्रसाद ने अपने ट्वीट में लिखा, 'यश डियर मुराद, आई डू। तुमने जो तस्वीर पोस्ट की उसमें वह बहुत ही घमंडी दिख रहा है। तुम्हें अगली गेंद को देखना चाहिए कि कैसे घमंड को उखाड़ फेंका था।'
यहाँ जिस मैच का जिक्र हो रहा हैं उसके बारे में बताते चले कि 1996 विश्व कप के क्वार्टर फाइनल में भारतीय टीम ने पहले पहले बल्लेबाजी करते हुए पाकिस्तान के सामने नवजोत सिंह सिद्धू के 93 और अजय जडेजा ने 45 रनों की ताबड़तोड़ पारी के बदौलत 8 विकेट खोकर 288 रनों का लक्ष्य दिया था। वसीम अकरम चोट के कारण बाहर होने से पाकिस्तान की तरफ से आमिर सोहेल टीम की कप्तानी कर रहे थे। भारत के द्वारा दिए लक्ष्य के जवाब में पाकिस्तानी टीम ने विस्फोटक शुरुआत की। सोहेल ने सईद अनवर के साथ मिलकर महज 11 ओवर में 84 रन जोड़ दिए।
हालांकि इस बीच अनवर आउट होकर पवेलियन लौट गए लेकिन सोहेल दूसरी छोड़ पर डटकर भारतीय गेंदबाजों की खबर ले रहे थे। इसी बीच जब वेंकटेश गेंदबाजी के लिए आए तो सोहेल ने उनके ओवर में भी चौका लगाकर उन्हें स्लेज किया। सोहेल ने पॉइंट की दिशा में चौका जड़ाने के बाद उन्होंने वेंकटेश को इशारा किया की वह फिर से वहीं पर गेंद को मारेंगे लेकिन हुआ बिल्कुल अलग। वेंकटेश ने अलगी गेंद पर सोहेल को बोल्ड कर उसी के अंदाज में आमिर सोहेल को मैदान से बाहर जाने का इशारा किया जो लोगों के जेहन में आज भी ताजा है। बाद में मैच में पाकिस्तानी टीम बेहतरीन शुरुआत के बावजूद सिर्फ 180 रन बनाकर ऑल आउट हो गई थी। 
Tags: Cricket