माता-पिता की एक आवाज पर गुजरात का यह व्यापारी कर रहा है उत्तराखंड के लोगों की मदद

माता-पिता की एक आवाज पर गुजरात का यह व्यापारी कर रहा है उत्तराखंड के लोगों की मदद

माता-पिता ने बताई गाँव वालों के महामारी के कारण होने वाली तकलीफ़ों के बारे में तो बेटे ने बनवाया ऑक्सीज़न प्लांट

कोरोना के इस कठिन समय में जहां एक तरफ कई लोगों ने गरीब मरीजों की मजबूरी का फायदा उठाते हुये उन्हें काफी लूटा था। वहीं कई लोग ऐसे भी है जिन्होंने इस समय में भी कई लोगों की सहायता की है। आज हम बात करने जा रहे है गुजरात के ऐसे ही एक व्यापारी की, जो कोरोना के इस कठिन समय में लोगों की सहायता के लिए आगे आए थे। गुजरात के व्यापारी गोपालगिरी को जब मालूम पड़ा की उत्तराखंड के बागलेश्वर जिले में मरीज ऑक्सीज़न के बिना मर रहे है, तो उन्होंने वहाँ एक ऑक्सीज़न प्लांट ही स्थापित कर दिया। गोपाल द्वारा किया इस काम की सरकार द्वारा भी काफी तारीफ की जा रही है। 
गोपाल खुद मूल रूप से उत्तराखंड के बागेश्वर जिले से ह। जो की गुज्र्त में एक बड़े व्यापारी बन चुके है। कुछ समय पहले जब कोरोना की लहर अपने चरम पर थी और लोग ऑक्सीज़न से परेशान थे। इस दौरान उनके पिता और माता ने अपने पुत्र को अस्पताल में पड़ रही ऑक्सीज़न की कमी के बारे में बताया। पिता गिरी गोस्वामी और माता जमुना देवी ने पाने बेटे से अस्पताल में ऑक्सीज़न की कमाई के बारे में उन्हें सहायता करने के लिए कहा। इसके बाद गोपाल ने उत्तराखंड के सीएम और जिला अधिकारियों से चर्चा की। सबसे बात करने के बाद उन्होंने वहाँ ऑक्सीज़न प्लांट बनाने का निर्णय किया। गुजरात से गोपाल ने 28 लाख की कीमत का ऑक्सीज़न जनरेशन प्लांट भिजवाया। 
गोपाल ने कहा कि उन्हें यह देखकर काफी दुख हुआ की यूके गांव में लोग कोरोना महामारी से इतनी बुरी तरह से परेशान थे। इसलिए उन्होंने निर्णय लिया की वह अपनी जन्मभूमि का कर्ज उतारेगे और उन्होंने बागेश्वर में ऑक्सीज़न प्लांट स्थापित करने का निर्णय लिया था। उन्होंने कहा की ऑक्सीज़न प्लांट उनके गाँव के लिए एक वरदान साबित होगा। बता दे की गोपालगिरी ने लोकडाउन के दौरान भी कई लोगों को बागेश्वर जाने में मदद की थी। 
Tags: Gujarat

Related Posts