चेतावनी : कहीं आप भी तो नहीं बन रहे अपने दिमाग के दुश्मन

प्रतिकारात्मक तस्वीर

जानिए किन कारणों से प्रभावित होता हैं दिमाग, शारीरिक स्वास्थ्य के साथ साथ मानसिक स्वास्थ्य भी आवश्यक

लोग ऐसे तो शरीर को मजबूत बनाने, शरीर को स्वास्थ्य बनाने के लिए बहुत कवायत करता रहता हैं  लेकिन अक्सर यहीं इंसान मानसिक स्वास्थ्य और जीवन शक्ति के बारे में कभी नहीं ध्यान देता है। आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में दिमाग को काफी दबाव झेलना पड़ता है। ऐसे में अपनी आदतों से अपने मस्तिष्क के क्षतिग्रस्त होने की संभावना को न बढ़ाएं। आइये जानते हैं ऐसे कौन कौन सी आदतें हैं जो आपके दिमाग और मानसिक स्वास्थ्य के लिए नुकसान दायक सिद्ध हो सकती हैं।
नींद की कमी
नींद स्वास्थ्य जीवनशैली का एक अहम हिस्सा हैं। पर्याप्त नींद न लेने से आपका शरीर जरूर थका हुआ महसूस करेगा लेकिन साथ ही इसका दिमागी तंत्र पर बुरा असर पड़ता है। नींद की कमी मस्तिष्क के साथ-साथ याददाश्त को भी प्रभावित कर सकती है। पर्याप्त निंग ना लेना मानव को शारीरिक और मानसिक दोनों ही तरह से परेशान करता हैं।
नमक का अधिक प्रयोग
नमक हमारे खाने का एक अभिन्न अंग हैं पर अत्यधिक नमक का सेवन उच्च रक्तचाप का कारण बन सकता है। जिससे दिल का दौरा भी पड़ सकता है। एक स्ट्रोक की संभावना मस्तिष्क क्षति की संभावना है। इसके अलावा आपको ध्वनि प्रदूषण से भी बचना चाहिए। कानों में ज्यादा शोर होने से भी बुरा असर पड़ सकता है।
अकेलेपन का शिकार
अकेलापन सबसे बड़ी समस्या हैं। आपके पास कोई ऐसा व्यक्ति होना चाहिए जिसके साथ आप सारी परेशानी साझा कर सकें। व्यस्त रहना भी तनावपूर्ण हो सकता है। अगर आप किसी के साथ बातें शेयर कर अपने तनाव को दूर कर सकते हैं तो इससे मन भी शांत होगा और आराम भी मिलेगा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें