उत्तर प्रदेश : अपनी शादी के लिए छुट्टी पर जा रही महिला कांस्टेबल को मिला कभी न भूल पाने वाला ‘सरप्राइज’

अपनी शादी की छुट्टी पर जा रही महिला कांस्टेबल की हल्दी की रस्म करके थाना अधिकारी और थाने के स्टाफ ने अनोखे अंदाज में विदाई दी

आज कल शादियों सा मौसम चल रहा है। आये दिन लोग शादी का आनंद उठा रहे है। किसी शादी समारोह में हल्दी की रस्म और मंगल गीतों का होना बहुत आम बात है लेकिन उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ में ऐसा मामला सामने आया है जिसने पुलिस की दूसरी छवि को उजागर किया है। अपराधियों की खाट खड़ी करने वाली पुलिस भी इंसान है और उसमें भी संवेदना है। इसका एक ताजा मामला सामने आया है। प्रतापगढ़ जिले के अरनोद उपखंड मुख्यालय के थाने में अपनी शादी की छुट्टी पर जा रही महिला कांस्टेबल को थाना अधिकारी और थाने के स्टाफ ने अनोखे अंदाज में विदाई दी। 
जानकारी के अनुसार प्रतापगढ़ जिले के अरनोद उपखंड मुख्यालय के थाने में महिला कॉन्स्टेबल नागु अपनी शादी के लिए छुट्टी लेकर जा रही थी। थाने के सीआई अजय सिंह राव और थाने के स्टाफ ने थाने में ही हल्दी की रस्म अदा कर नागु को शादी की शुभकामनायें सी और फिर उसे छुट्टी पर भेजा। इस रस्म में थाने के महिला और पुरुष पुलिसकर्मियों ने दुल्हन बनने जा रही महिला कॉन्स्टेबल को हल्दी लगाई। 
बता दें कि महिला कांस्टेबल नागु की 13 मई को शादी होने वाली है। जिसके लिए वह छुट्टी लेकर अपने घर को जा रही थी। इस पर थाने के स्टाफ ने उसके लिए एक अनोखा सरप्राइज प्लान किया। शादी की छुट्टी पर जाने से पहले सीआई अजय सिंह राव ने अपने स्टाफ के साथ थाने में ही हल्दी की रस्म कर महिला कॉन्स्टेबल को छुट्टी की मंजूरी दी।
हम सबको पता है कि शादी वाले घर में हल्दी की रस्म के साथ ही शादी का उत्सव शुरू हो जाता है। घरों में दूल्हा-दुल्हन को हल्दी लगाने के साथ ही गीत गाए जाते हैं और शादी का उत्सव मनाया जाता है। इस बारे में अधिकारी सीआईडी अजय सिंह राव ने बताया कि जैसे ही उन्हें महिला कॉन्स्टेबल की शादी का पता चला तो सबने मिलकर उसकी हल्दी की रस्म करने का किया। वह ड्यूटी कर रही थी हम सबने उसे सरप्राइज दिया। थाने में हल्दी की रस्म हो जाने से अब नागु के गांव में इस रस्म को दुबारा किया जाएगा। छुट्टी मिलने के बाद शाम को नागु को थाना स्टाफ ने विदाई दी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें