केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी स्क्रैप व्हीकल पोलिसी के लेकर आ रहे हैं गांधीनगर, गुजरात के 15 साल से अधिक पुराने वाहनों को लेकर होगा फैसला

प्रतिकारात्मक तस्वीर (Photo: twitter.com)

रियूज, रिड्यूस और रिसाइकल के तीन 'आर' पर आधारित इस नीति के रोडमैप की घोषणा की जाएगी

भारत सरकार की स्क्रैप व्हीकल पोलिसी (कबाड़ वाहन नीति) के सिलसिले में लेकर केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी का 13 अगस्त को गुजरात में गांधीनगर के महात्मा मंदिर में कार्यक्रम आयोजित किया गया है। जिसमें गुजरात के 15 साल से अधिक पुराने वाहनों के कबाड़ वाहनों के निस्तारण की तकनीक के संबंध में रोडमैप की घोषणा की जाएगी। स्क्रैप वाहन यार्ड साणंद, वीरमगाम, मंडल, बेचाराजी और सावली जैसे ऑटोमोबाइल एसईजेड में होगा।
आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने पिछले मार्च में स्क्रैप वाहन नीति की घोषणा की थी। इसी नीति के आधार पर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी गांधीनगर के महात्मा मंदिर में घोषणा करेंगे, जिसमें गुजरात में डेढ़ करोड़ से अधिक वाहनों को कबाड़ में ले जाने के रोड मैप की घोषणा की जाएगी। रियूज, रिड्यूस और रिसाइकल के तीन 'आर' पर आधारित इस नीति के रोडमैप की घोषणा की जाएगी। स्क्रैप यार्ड ज्यादातर ऑटोमोबाइल हब के आसपास बनाया जाएगा। वाहनों को नष्ट करने के साथ-साथ वाहन के पुर्जों के पुन: उपयोग के लिए प्रौद्योगिकी के उपयोग पर जोर दिया गया है।
गौरतलब है कि राज्य में पुराने वाहनों से प्रदूषण बढ़ रहा है। इस सिलसिले में नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने बार-बार भारत सरकार और राज्य सरकार से इस प्रदूषण की मात्रा को नियंत्रित करने का आदेश दिया है। इस दिशा में उठाये गए कदमों में 15 साल पुराने वाहनों पर प्रतिबंध लगाना भी शामिल है। केंद्र सरकार द्वारा पिछले बजट सत्र के दौरान एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया था कि जो वाहन 15 साल पुराने हैं। उन वाहनों को स्क्रैप यार्ड में ले जाकर स्क्रैप करना होगा।
आपको बता दें कि केंद्र सरकार और राज्य सरकार के पास इन वाहनों के निपटान के लिए कोई महत्वपूर्ण व्यवस्था और नीति नहीं है, इसलिए वाहन किसी भी हालत में सड़क पर दौड़ते रहते हैं। नतीजतन, वाहन दुर्घटना प्रदूषण के साथ-साथ स्क्रैप वाहन निपटान के मुद्दे सिरदर्द बन गए हैं। भारत सरकार गुजरात सहित देश में 15 साल पुराने वाहनों के स्क्रैप के लिए नए उद्योग खोलने के लिए तैयार है, जिसके हिस्से के रूप में इस तरह के मलबे को गुजरात में ऑटोमोबाइल हब के आसपास स्थापित किया जाएगा, शीर्ष आधिकारिक सूत्रों के अनुसार परिवहन विभाग साणंद, वीरमगाम, मंडल, बेचाराजी और सावली, जहां ऑटोमोबाइल एसईजेड स्थित हैं, एसईजेड के भीतर स्केप व्हीकल यार्ड होंगे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें