पेट्रोल-डीजल के बढ़ते कीमतों को लेकर नए पेट्रोलियम मंत्री ने कही ये बात

मोदी सरकार के नए कैबिनेट में धर्मेंद्र प्रधान के बदले हरदीप सिंह पुरी को मिला पेट्रोलियम मंत्रालय

हाल ही में हुए बदलाव के बाद मोदी सरकार के नए कैबिनेट में पेट्रोलियम मंत्रालय धर्मेंद्र प्रधान के बदले हरदीप सिंह पुरी को दिया गया है। ज्यादातर मंत्रियों ने उन्हें सौंपे गए मंत्रालयों का प्रभार संभाल लिया है। इस समय देश भर में पेट्रोल और डीजल की कीमतें लगातार बढ़ रही है। अपनी बढती कीमतों के साथ पेट्रोल और डीजल नया रिकॉर्ड बना रहे हैं। जिसके चलते पूरे देश में इसका विरोध हो रहा है।
देश में बढ़ती कीमतों को लेकर लोगों का आक्रोश दिनों दिन बढ़ता ही जा रहा है। कई राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में पेट्रोल की कीमत 100 रुपये प्रति लीटर या उससे अधिक हो गई है। जबकि अन्य राज्यों में यह कीमत इसके काफी करीब है। ऐसे में पूरी देश की नजर मंत्रालय में नवनियुक्त मंत्री हरदीप सिंह पुरी पर है सब देखना चाहते है कि नए मंत्री किस तरह दाम कम करते हैं। उन्होंने कार्यभार संभालने के बाद संवाददाताओं से कहा कि वह उन्हें पेट्रोलियम मंत्री बनाने के लिए पीएम मोदी के आभारी हैं और धर्मेंद्र प्रधान द्वारा किए गए अच्छे कामों को आगे बढ़ाएंगे।
इस बीच उन्होंने कहा कि यह एक ऐसा मंत्रालय है जिसमें भारत के नागरिकों का प्रत्यक्ष या परोक्ष संबंध है। पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने सीधे तौर पर कोई जवाब नहीं दिया। लेकिन इस मामले में, उन्होंने कहा, उन्हें हाल ही में जिम्मेदारी सौंपी गई है और वह इसके बारे में बाद में बात करना चाहते हैं। उन्होंने कच्चे तेल और गैस के लिए घरेलू उत्पादन बढ़ाने की बात कही और कहा कि उनका ध्यान भारत की गैस आधारित प्रणाली के निर्माण पर होगा। किसी भी अर्थव्यवस्था के लिए बहुत ऊर्जा होती है। वर्तमान में कुल ऊर्जा खपत में गैस की हिस्सेदारी 15% है। उन्होंने कहा कि इसे बढ़ाकर अब 20 से 30 फीसदी करने की जरूरत है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें