देश भर में तिरंगे की गूँज से हुआ राष्ट्रभक्ति का प्रचंड वेग

प्रतिकारात्मक तस्वीर

हर घर तिरंगा अभियान में झंडे की मांग को पूरा करने के लिए युद्ध स्तर पर हो रहा काम

आजादी के अमृत महोत्सव वर्ष में सारे देश में हर घर तिरंगा अभियान में बढ़-चढ़ के हिस्सा लेने की होड़ सी लग गई है और जिसको देखते हुए देश भर के बाज़ारों में तिरंगे झंडे को खरीदे जाने की एक प्रतिस्पर्धा का वातावरण बन गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा हर घर तिरंगा लगाने की अपील का व्यापक असर देश भर में देखा जा रहा है जिसके चलते इस अभियान की विराट सफलता में तिरंगे झंडे की देश भर में कोई कमी न हो इस बात को सुनिश्चित करने के लिए छोटे से छोटे शहरों में भी बाज़ारों में तिरंगे की बाढ़ से आ गई है। चाहे वो सरकारी संस्थान हो अथवा व्यापारिक, सामाजिक, सांस्कृतिक या उद्योग संगठन, स्कूल अथवा अन्य शिक्षण संस्थान सभी लोग 13 अगस्त से 15 अगस्त तक देश भर को देशभक्ति एवं तिरंगामय करने में जुट गए हैं। 
कॉन्फ़ेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी सी भरतिया एवं राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने आज बताया कि एक अनुमान के अनुसार देश भर में 25 करोड़ से ज्यादा घरों पर तिरंगा लगाए जाने की संभावना है ! 23 जुलाई के आस पास देश भर में एक मोटे अनुमान के  लगभग 4 करोड़ तिरंगा ध्वज का स्टॉक था लेकिन पिछले लगभग 12 दिनों में व्यापारियों, कपडा मिलों तथा अन्य सभी साधनों द्वारा दिन रात मेहनत कर लगभग 10 करोड़ झंडे तैयार किये गए हैं और पूरी उम्मीद है की 15 अगस्त से पहले देश भर में लगभग 30 करोड़ झंडे तैयार हो जाएंगे और पूरे देश में 13 अगस्त से 15 अगस्त तक जिधर भी निगाह जायेगी उधर तिरंगा ही लहराता दिखाई देगा।  उन्होंने कहा की आजादी के बाद यह पहला मौका होगा जब तिरंगे की शान और देश की स्वतंत्रता का जश्न मनाने के लिए सारा देश एक साथ खड़ा दिखाई देगा। 
दोनों पदाधिकारियों ने बताया कि इस दिशा में कैट ने दिल्ली, महाराष्ट्र, गुजरात, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, पंजाब, तमिलनाडु, ओडिसा, बिहार ,राजस्थान, झारखण्ड, पश्चिम बंगाल,आंध्र  प्रदेश आदि राज्यों में बेहद बड़े स्तर पर तिरंगे झंडे तैयार करने का काम चल रहा है। छोटे से लेकर बड़े साइज के झंडे न केवल तैयार हो रहे हैं बल्कि देश भर में इन झंडों की सप्लाई का काम भी जारी है। केंद्र सरकार ने 20 जुलाई को फ्लैग कोड में संशोधन कर राष्ट्रीय ध्वज को घरों पर लगाने के नियम आसान किये गए जिसके अनुसार अब लोग अपने घरों में दिन रात राष्ट्रीय ध्वज लगा सकते हैं। इस संशोधन के बाद तिरंगे झंडे खरीदने में ज्यादा तेजी दिखाई दी है। 
 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें