सूरत : पुराने मकान मालिक की हरकतों से परेशान युवती ने की आत्महत्या की कोशिश

प्रतिकारात्मक तस्वीर

बात न करने पर परिवार को जान से मारने की धमकी देने पर युवती ने नींद की कई गोलियां निगल गई

सूरत के चौकबाजार इलाके में रहने वाली एक 23 वर्षीय युवती ने पुराने मकान मालिक की हरकतों से परेशान होकर नींद की ज्यादा गोलियां खाकर आत्महत्या करने की कोशिश की। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मूल रूप से उत्तर प्रदेश के रहने वाले और सूरत के चौकबाजार इलाके में रहने वाले मजदूर की 23 वर्षीय बेटी सुनिता (बदला हुआ नाम) अडाजण के एक मॉल में काम करती है। छह साल पहले वह रूपेश सिंह राजपूत (उम्र- 35, निवासी- प्लॉट नं. 269, लक्ष्मीनगर, वेडरोड, सूरत) के मकान में किराये पर रहती थी। हजीरा में मेडिकल की दुकान चलाने वाले रुपेश के यहां दो साल पहले सुनिता का भाई वहां काम सीखने जा रहा था। काम को लेकर झगड़ा होने पर रूपेश ने घर खाली कर दिया और परिवार कहीं और रहने चला गया, लेकिन उसके बाद रूपेश उन्हें फिर से वहीं रहने के लिए कहता था और परिवार के मना करने पर वह गालीगलौज करता था।

 काम की जगह पर जाकर भी परेशान कर रहा था

इस बीच, रूपेश ने सुनिता को फोन किया और उसे अपने माता-पिता को समझाने के लिए कहा। साथ ही यह भी कहा कि मैं तुम्हें पसंद करता हूं। बाद में उसने उसका पीछा करना शुरू कर दिया। वह सुनिता को उसके काम की जगह पर जाकर भी परेशान कर रहा था। अगर तुम मुझसे बात नहीं करोगी तो मैं तुम्हें और आपके परिवार को जान से मारने की धमकी दी। जिससे सीमा को दो दिन पहले नींद की अधिक गोलियां खाकर आत्महत्या करने की कोशिश के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जांच होने पर चौकबाजार पुलिस ने रूपेश के खिलाफ छेड़खानी का मामला दर्ज किया है। अस्पताल के बिस्तर से सुनिता की शिकायत के आधार पर चौक बाजार पुलिस उसे गिरफ्तार करने की कोशिश कर रही हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें