सूरत : टीवी सीरियलों के स्ट्रगलर चैन झपट्टामार बन गए, धरे गए

(Photo : IANS)

जूनागढ़, वेरावल और अहमदाबाद में मचा चुके है उत्पात, सूरत पुलिस ने धर दबोचा

कहते है की व्यक्ति को अपने बुरे समय में काफी सँभाल कर और सोच विचार कर अपने रास्ते चुनने चाहिए। समय के बुरे दौर में व्यक्ति कई बार बुरे निर्णय लेकर अपनी जीवन भर की प्रतिष्ठा को धूमिल कर देता है। कुछ इसी तरह का रास्ता चुना मुंबई की सीरियलों में काम करने वाले एक एक्टर ने जिसके कारण आज उसे जेल की सलाखे गिनने का समय आया है। 
विस्तृत जानकारी के अनुसार, मुंबई में जाकर कई सीरियल में काम कर चुके मिराज कापड़ी और उसके दोस्त वैभव जाधव जो की बीएससी पढ़ चुका है, दोनों को रांदेर पुलिस ने चैन स्नेचिंग और मोबाइल चुराने के आरोप के तहत गिरफ्तार किया था। रांदेर पुलिस जब वाहन चेकिंग के काम में लगी थी, तभी उन्हें जानकारी मिली के मोराभागल की और से दो स्नेचर बाइक पर आ रहे है। इस बात की जानकारी मिलते ही पुलिस ने मोराभागल के पास वॉच रखनी शुरू की। 
तभी वहाँ जूनागढ़ के ध्राबावड गाँव का वैभव जाधव और जूनागढ़ के 29 वर्षीय मिराज कापड़ी को चोरी की बाइक, 2.20 लाख की मूल्य के तीन सोने की चैन और दो मोबाइल के साथ हिरासत में लिया था। दोनों की पूछताछ में पुलिस को पता चला की मिराज मुंबई की कुछ सीरियल में स्ट्रगलिंग एक्टर के तौर पर काम करता था। मिराज को जुआ खेलने का शौख था और उसके कारण उनके ऊपर काफी कर्ज भी हो चुका था। 
पुलिस ने मिराज के साथ वैभव जाधव को भी पकड़ा था। जो की बीएससी केमिस्ट्री तक का अभ्यास कर चुके है। वैभव खुद भी जुए की लत में कंगाल हो चुका था। जिसके बाद जूनागढ़, वेरावल, अहमदाबाद में 12 जितने चैन और मोबाइल स्नेचिंग के कई जुर्म किए थे। दोनों के ऊपर काफी ज्यादा कर्ज हो चुका था, जिसके चलते वह सूरत आए थे। जहां उन्होंने रांदेर इलाके में से बाइक चुराई थी और शहर के अलग-अलग इलाकों में चैन स्नेचिंग भी करते थे। जिसके चलते इंस्पेक्टर जे पी जडेजा के मार्गदर्शन में कॉन्स्टेबल अर्जुन और कनकसिंह ने जांच आगे बढ़ाई थी। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें