पोलिएस्टर बैड-शीट के कारोबार में सूरत ने चीन को पीछे छोड़ा

प्रतिकात्मक तस्वीर (Photo Credit : bedsheet360.com)

कपड़ा उद्योग सूरत के अर्थतंत्र की मुख्य धुरी है। लाखों लोग इस उद्योग से जुड़े हैँ और अपनी रोजी-रोटी कमाते हैं। आम तौर पर ऐसा माना जाता रहा है कि सूरत साड़ियों और ड्रेस मटीरियल्स का गढ़ है। लेकिन ‌पिछले कुछ वर्षों में लहंगों से लेकर पुरुषों के कैज्युअल और फोर्मल कपडों की रैंज में भी ने अपना परचम लहराया है। सिर्फ इतना ही नहीं पोलिएस्टर बैड-शीट के क्षेत्र में भी सूरत के कारोबारियों ने अपना जौहर दिखाते हुए चीन को पीछे छोड़ दिया है। 
सूरत में ‌पिछले दिनों आयोजित इंटरनेशनल टेक्सटाईल एक्सपो 2022 - सिटेक्स के दौरान द सदर्न गुजरात चैंबर ऑफ कोमर्स के अध्यक्ष आशीष गुजराती ने मीडिया को इस संदर्भ में बताते हुए कहा कि पहले दुनिया भर के होटलों और होस्पीटलों में पोलिएस्टर बैड-शीट की आपूर्ति में चीन का दबदबा था। लेकिन अब अधिकांश ऑर्डर सूरत को मिल रहे हैं। 
बता दें कि टेक्सटाईल एक्सपो में 250 करोड़ का व्यापार हुआ। एक्सपो में 75 प्रदर्शनकारों ने हिस्सा लिया था। प्रदर्शनी में चीन और जापान की बनी मशीनें भी प्रदर्शित की गई थीं। चैंबर अध्यक्ष गुजराती ने बताया कि सूरत के उद्यमियों में आधुनिक टेक्सटाईल मशीनों को लेकर काफी पृच्छा रही।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें