सूरत : आरोपी जेल से फोन करके धमका रहे, एसिड एटैक के आरोपी पिता ने बेटे-बेटियों पर समाधान के लिये दबाव बनाया

प्रतिकात्मक तस्वीर (Photo : IANS)

जेल से आरोपियों-कैदियों द्वारा किये जा रहे फोन की बात सुनकर अदालत भी चौंकी, एक ही सीम से कई कैदियों ने अवैध कॉल किये, जांच के आदेश

सूरत शहर के वराछा में रहने वाले शख्स ने वर्ष 2019 में अपनी पत्नी, पुत्र  और दो बेटियों पर एसिड अटैक किया था। साथ ही उनकी कोई मदद नहीं कर सके इसलिए बाहर से दरवाजा भी बंद कर दिया और मोबाइल भी ले लिया था। इस घटना में उसकी पत्नी की मौत हो गई थी जबकि बेटे और बेटियों को लंबा उपचार करवाना पड़ा था। फिलहाल आरोपी व्यक्ति जेल में बंद है और जेल से फोन करके बेटे और बेटियों को केस में समाधान करने के लिए दबाव बना रहा है। इस मामले में पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई गई है। 
कोर्ट में बेटे ने बयां की पिता की करतूत
मिली जानकारी के अनुसार आरोपी छगन वाला इन दिनों जेल में बंद है। उसके बेटे ने कोर्ट में बताया कि छगन पहले  लैंडलाइन से फोन करता था लेकिन कुछ दिनों से वह मोबाइल से फोन कर रहा है और समाधान के लिए दबाव बना रहा है। इस बारे में उसके बेटे भार्गव ने कोर्ट का ध्यान खींचा है। यह सुनकर कोर्ट भी चौंक उठी। 
जांच में कई आरोपियों का फोन कनेक्शन खुला
पुलिस की जांच के दौरान पता चला है कि इस नंबर से जेल में बंद एमडी ड्रग्स का डीलर इम्तियाज भी अपने परिवार के साथ बात करता है। इसके अलावा हत्या का आरोपी बबलू भी लगातार अपने परिचितों से बात कर रहा था। ढिंगली मोहल्ले में रहने वाले गुलाम साबिर उर्फे समीर सलीम कुरैशी ने भी फोन किया है। उसकी बहन ने ही यह सिम कार्ड दिया था। इस जानकारी के आधार पर पुलिस ने चारों के खिलाफ शिकायत दर्ज कर ली है।
उल्लेखनीय है कि सब जेल में बंद आरोपी मोबाइल से लोगों को धमकाते रहते हैं। ऐसी घटनाएं कई बार प्रशासन के ध्यान पर आती रहती हैं। इसके बावजूद यह सब कुछ चल रहा है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें