एक ऐसा अजीबोगरीब गांव जहां आने वाले हर शख्स को अपने शरीर का ये अंग हटवाना पड़ता है!

(Photo Credit : en.wikipedia.org)

गाँव का सबसे नजदीकी अस्पताल है 1000 किलोमीटर दूर, गर्भवती महिलाओं के आने पर है पाबंदी

क्या आप जानते हैं कि दुनिया में एक जगह ऐसी भी है जहां रहने के लिए आपका अपने शरीर का एक अंग काटना पड़ेगा। यदि कोई ऐसा कहने से इन्कार करता है तो उसे वहां नहीं रहने दिया जाएगा चाहे आप कितने ही ऊंचे पद पर क्यों ना हो? इस नियम का पालन करने वाले को ही वहां रहने दिया जाता है। हम बात कर रहे हैं बर्फ के पहाड़ियों से घिरे अन्टार्कटिका के विलास लास एस्ट्रेला की। इस गांव में रहने वाले लोगों की शर्त यह है कि किसी को रहना हो तो उसे अपेंडिक्स का ऑपरेशन कराना पड़ेगा। 
इस गांव में आने वाले वैज्ञानिकों और बड़े-बड़े अधिकारियों को भी गांव में जाने के लिए इस नियम का पालन करना पड़ता है। बताया जा रहा है कि इस नियम को बनाने के लिए बड़ी मजबूरी यह है कि गांव के आस-पास कोई अस्पताल नहीं है। सबसे नजदीकी हॉस्पिटल किंग जॉर्ज टापू मे है जो गांव से 1000 किलोमीटर दूरी पर है। होस्पिटल तक पहुंचने के लिए बर्फ से ढंके पहाड़ और दुर्गम रास्तों से गुजरना पड़ता है। यहां मात्र गिने-चुने डॉक्टर हैं इनमें भी कोई सर्जन नहीं है। बताया जा रहा है कि अपेंडिक्स एक आंत का टुकड़ा होता है जिसे डॉक्टरों की भाषा में अपेंडिसाइट कहता है। एसका एक हिस्सा खुला और दूसरा बंद होता है। यह एक अवशेषी अंग है। जिसकी शरीर में कोई जरूरत नहीं होती। 
कई बार भोजन कण यहाँ पड़े रहकर सड़ने लगते हैं। जिससे कि संक्रमण हो जाता है और इसका दर्द भी बर्दाश्त नहीं होता। ज्यादा दिन तक रह जाए तो जाता है जो कि कई बार जानलेवा होता है। इसे निकालने के लिए यहां पर जोर दिया जाता है। वैज्ञानिक और डॉक्टर यहां पर रोटेशन पर आते हैं कई बार उन्हें के आर्मी के  बीच बैठा रहना होता है। जिससे कि आने वाले लोग स्वस्थ रहें। इस बात का पूरा ख्याल रखा जाता है। इतना ही नहीं यहां पर आने वाले वैज्ञानिक और मिलेटरी को यह भी सूचना दी जाती है कि परिवार की महिलाएं गर्भवती ना हो जाए क्योंकि वहां पर मेडिकल सुविधा का अभाव है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें