इस जगह कोरोना वैक्सीन नहीं लगवाने पर हो जाएगा सिम कार्ड ब्लॉक

(Photo Credit : google.com)

पाकिस्तान में 18 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों के लिए शुरू किया गया वॉक इन वैक्सीनेशन

दुनिया भर में कोरोना वैक्सीन के प्रति लोगों में जागृति लाने के लिए कई तरह के प्रलोभन दिये जा रहे है। कही टीका लेने पर आर्थिक लाभ तो कई टीका लेने पर लकी ड्रॉ करवाए जा रहे है। पर पाकिस्तान की सरकार द्वारा टीकाकरण ना करवाने लोगों को प्रोत्साहित करने के लिए एक अनोखा निर्णय लिया है। पाकिस्तान की पंजाब सरकार ने गुरुवार को उन लोगों का सिमकार्ड ब्लॉक करवाने का निर्णय लिए है जो कोरोना वायरस की वैक्सीन नहीं लेंगे। 
मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के स्वास्थय मंत्री डॉ यास्मिन राशिद की अध्यक्षता में हुई एक बैठक में यह निर्णय लिया गया कि जो लोग वैक्सीन नहीं लेंगे, उन सभी के सिम कार्ड ब्लॉक कर दिये जाएँगे। इस बैठक में सिविल और सेना के अधिकारी भी उपस्थित रहे थे। इस बैठक में निर्णय लिया गया 12 जून से 18 साल से अधिक सभी मरीजों के लिए वॉक इन वैक्सीनेशन कि शुरुआत की जाएगी। पाकिस्तान सरकार ने डिसेम्बर के अंत तक 70 लाख लोगों को वैक्सीन देने का लक्ष्य रखा है। 
राज्य सरकार द्वारा पूरे राज्य में धार्मिक स्थलों के बाहर वैक्सीनेशन सेंटर लगाए जाएँगे। जिसमें कैंसर और एड्स से पीड़ित मरीजों को सबसे अधिक प्राथमिकता दी जाएगी। इसके बाद ही लोग सिनेमा, रैस्टौरेंट और शादियों में शामिल हो सकेगे। पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री डॉ यास्मिन ने बताया कि उन्होंने उन लोगों की लिस्ट तैयार की है, जिन्होंने अब तक कोरोना वैक्सीन का दूसरा डोज़ नहीं लिया है।
उन्होंने कहा की ऐसे कई लोग है जो की कोरोना का पहला टीका लेने का बाद कोरोना संक्रमण का शिकार हो गए थे, जिसके बाद आज तक उन्होंने कोरोना का दूसरा डोज़ नहीं लिया है। इसके अलावा कई लोग ऐसे है जो की पहला डोज़ लेने के बाद ही संक्रमण के कारण मृत्यु को प्राप्त हो गए थे। ऐसे में उन लोगों तक जल्द से जल्द पहुँचने का प्रयत्न किया जा रहा है। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें