सौराष्ट्र: फिर बढ़ा जंगली जानवरों का आतंक, हाल ही में हुए तीन हमले में एक की मौत, तीन घायल

प्रतिकात्मक तस्वीर (Photo Credit : Pixabay.com))

मरने वाली एक बच्ची जिसे तेंदुए ने मारा

सौराष्ट्र में एक बार फिर वन्यजीवों का आतंक शुरू हो गया है। खासकर तेंदुएं के आतंक से सौराष्ट्र के वन के किनारे के गांवों के लोग विशेष रूप से परेशान हैं। दरअसल अमरेली और भावनगर जिले में बाघों के हमले की तीन घटनाएं सामने आई हैं। जिसमें एक लड़की की मौत हो गई है जबकि तीन लोग घायल हैं। 
इनमे से पहली घटना शनिवार को घटी जब अमरेली जिले के धारी गिर पूर्व सरसिया रेंज चलाला बीट क्षेत्र में गरमाली के पास रात में संगीताबेन रवींद्रभाई ठाकर (30) और नयनाबेन राकेशभाई मल (35) एक खेत में एक शेड के पास सो रही थी। इसी दौरान तेंदुए ने हमला कर दोनों को घायल कर दिया। दोनों घायल महिलाओं को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना की सूचना मिलते ही वन विभाग और स्थानीय पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। बाघ को पकड़ने के लिए वन विभाग ने कदम उठाया है। हालांकि अभी तक तेंदुआ पकड़ा नहीं जा सका है।
वहीं दूसरी घटना भावनगर जिले के पालिताना रेंज भंडारिया गांव के पास वाडी इलाके में रविवार को हुई. यहां तेंदुआ एक बच्चे को उठाकर ले गया और मारकर खा गया। वहीं तीसरी घटना अमरेली जिले के धारी गिर के पूर्व में डालखानिया रेंज में सेमरडी के पास रात में हुई। सेमरडी के पास रहने वाले 50 वर्षीय कानाभाई सादुलभाई वाघेला के पास बड़ी संख्या में भेड़ें हैं। रात में शेर उनका शिकार करने आया। हालांकि इस दौरान उनकी आंख खुल गयी और उन्होंने विरोध किया लेकिन इसमें शेर ने उन्हें घायल कर दिया। अमरेली सिविल अस्पताल में उनका इलाज चल रहा है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें