रहाणे ने बताए इंग्लैंड में सफल होने का तरीके

(File Photo: IANS)

अन्य सभी मैचों की तरह ही लेंगे फ़ाइनल को भी, एक यूनिट की तरह काम किया टीम ने

साउथम्पटन, 14 जून (आईएएनएस)| भारतीय टेस्ट टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने कहा है कि इंग्लैंड में रन बनाने के लिए बल्लेबाजों को सेट होने और लेट शॉट खेलने की जरूरत है। भारतीय टीम को इंग्लैंड के साउथम्पटन में 18 जून से न्यूजीलैंड के साथ वल्र्ड टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) का फाइनल खेलना है। इसके बाद टीम को चार अगस्त से मेजबान इंग्लैंड के साथ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है।
रहाणे ने बीसीसीआई टीवी से कहा, " आप कहते हैं कि एक बल्लेबाज के रूप में आपको हमेशा चुनौतीपूर्ण परिस्थितियां पसंद हैं। इंग्लैंड एक ऐसी जगह है जहां अगर आप सेट होते हैं तो यह (पिच) बल्लेबाजी के लिए काफी अच्छी हो जाती है। मेरा हमेशा से मानना रहा है कि आप जितने करीब से खेलते हैं, बाद में खेलते हैं, आपके लिए उतना ही अच्छा है। बल्लेबाज के तौर पर एक और चीज मुझे लगती है कि आप भले ही 70 पर बल्लेबाजी कर रहे हो या फिर 80 रन पर, आप कभी भी क्रीज पर जमते नहीं हो, क्योंकि एक गेंद पर आपके आउट होने का मौका बना रहता है।"
33 साल के रहाणे डब्ल्यूटीसी में भारत के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। उन्होंने डब्लयूटीसी में अब तक 17 टेस्ट मैचों में 1095 रन बनाए हैं। उन्होंने कहा कि फाइनल में पहुंचना आसान नहीं था और टीम ने एकजुट होकर प्रदर्शन किया है। रहाणे ने कहा, " हमने दो सालों तक एक यूनिट के तौर पर खेला है। यही वजह है कि हम वल्र्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल तक पहुंचे हैं। यहां तक पहुंचना आसान नहीं रहा है लेकिन जब से वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप की शुरूआत हुई है तब से लेकर अभी तक टीम ने एक यूनिट के तौर पर परफॉर्म किया है।"
उपकप्तान ने कहा, " हां, ये एक अहम मैच है लेकिन हम इसे अन्य मैचों की तरह ही लेंगे। हमें यहां पर तैयारी का अच्छा मौका मिला है। व्यक्तिगत तौर पर मैं वल्र्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में हिस्सा लेने के लिए काफी उत्साहित हूं। हम अपनी तरफ से बेस्ट कोशिश करेंगे और जो रिजल्ट आएगा उसे स्वीकार करेंगे।"
(Disclaimer: यह खबर सीधे समाचार एजेंसी की सिंडीकेट फीड से पब्लिश हुई है। इसे लोकतेज टीम ने संपादित नहीं किया है।)

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें