पोरबंदर : पढ़ाई के लिए जा रहे बच्चों को तेज रफ्तार कार ने बनाया अपना शिकार

प्रतिकात्मक तस्वीर (Photo : IANS)

इनोवा कार ने मारी टक्कर, दोनों बच्चों की हुई घटनास्थल पर मौत

बीते कई दिनों में राज्य में सड़क दुर्घटनाओं में इजाफा हुआ है।  कल ही अमरेली के बरदा के पास हुए दर्दनाक हादसे में ट्रक चालक की गलती से आठ लोगों की जान चली गई थी। एक और दुर्घटना में पोरबंदर के पास देगाम गांव के पास हुई, जिसमें अपने चचेरे भाई के साथ पढ़ाई के लिए जा रही एक लड़की की मौत हो गई। इस मामले में देगाम के पास चामुंडा माता मंदिर के पास अपने चचेरे भाई के साथ स्ट्रीट एजुकेशन की पढ़ाई करने जा रही थी लड़की को इनोवा कार ने टक्कर मार दी और दोनों की मौत हो गई। प्राप्त जानकारी के अनुसार आज सुबह पोरबदर-जामनगर मार्ग पर डेगाम के समीप चामुंडा माता मंदिर के समीप 14 वर्षीय आरती रमेशभाई गोहेल अपने तीन वर्षीय चचेरे भाई मित नीलेशभाई गोहेल के साथ पढ़ाई करने जा रही थी। इस बीच इनोवा कार (नंबर जीजे-01-एचएस-0188) से टकराने से बच्चों की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि एक अन्य बच्चा घायल हो गया। घटना की सूचना मिलते ही आसपास के ग्रामीण एकत्र हो गए और पुलिस को सूचना दी।
सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों के शवों की जांच की और पीएम के लिए अस्पताल पहुंचाया। हादसे के बाद चालक फरार हो गया। घटना के बाद गांव के सामाजिक नेता अस्पताल पहुंचे। पुलिस को प्रारंभिक जांच में मिली आरसी बुक के मुताबिक कार नजीर हुसैन मोहम्मदभाई खत्री के नाम के नाम पर है। हाईवे पर होटलों सहित अन्य जगहों पर लगे सीसीटीवी कैमरों के आधार पर आगे की कार्रवाई कर रही है और पुलिस जांच कर रही है कि कार कौन चला रहा था।
गौरतलब है कि कोरोना के कारण स्कूल बंद होने के कारण वर्तमान में ग्रामीण क्षेत्रों में बच्चों को स्ट्रीट स्टडी दी जा रही है। सुबह दोनों बच्चे पास में गली में पढ़ने के लिए जा रहे थे कि उसी समय एक दर्दनाक हादसा हो गया। हादसे में एक ही परिवार के दो मासूम बच्चों की दर्दनाक मौत से परिवार सदमे में है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें