अब हाइवे के ढाबा मालिकों को भी मिलेगी पेट्रोल पंप और शौचालय खोलने की अनुमति

प्रतिकात्मक तस्वीर

अब जल्द ही आप को नेशनल हाइवे पर आए ढाबों पर खाने के साथ पेट्रोल पंप की सुविधा भी मिल सकेगी। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी द्वारा इस मामले मे भारत के मार्ग परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के अधिकारियों के साथ उनके विभाग को भी सूचना दे दी है। सोमवार को गडकरी ने बताया की उन्होंने उनके मंत्रालय के अधिकारियों को ढाबा मालिकों को नेशनल हाइवे पर पेट्रोल पंप और शौचालय बनाने की अनुमति देने के प्रस्ताव पर काम करने के लिए कहा गया है।
एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुये गडकरी ने यह भी कहा की सरकारी अधिकारियों को अपने निर्णय जल्द से जल्द ले लेने चाहिए।कई बार निर्णय लेने की प्रक्रिया में देरी होने के कारण ही कई प्रोजेक्ट में विलंब हो रहे है। गडकरी ने बताया की उन्हें किसी ने मैसेज भी किया की जब वह यात्रा कर रहे थे तो उन्हें सड़क के बीच 200 से 300 किलोमीटर के बीच कई भी टॉइलेट नहीं मिला। 
गडकरी ने बताया की कई लोग सड़क की ज़मीनों पर अतिक्रमण कर वहाँ ढाबे खोल रहे है। ऐसे में यदि नेशनल हाइवे ओथोरिटी ऑफ इंडिया द्वारा पेट्रोल पंप के लिए एनओसी दी जाए तो यह अवैध अतिक्रमण भी रोका जा सकता है। इसके अलावा सरकार द्वारा जमीन संपादन की रकम को बढ़ा दिया गया है। अब कोई भी नागारिक सरकार को जमीन देने से कतराता नहीं है। विकास के कार्य के लिए कोई भी नागरिक अब अपनी जमीन देने के लिए तैयार ही रहता है। 


इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें