वलसाड जिला प्रशासन की नई पहल; सिविल अस्पताल निजी अस्पतालों को वेंटिलेटर लोन पर देंगे!

प्रतीकात्मक छवि (Photo Credit : Wikimedia.org)

निजी अस्पतालों के मरीजों के लिए किसी आशीर्वाद से कम नहीं ये निर्णय

वलसाड जिला के निजी अस्पतालों की स्थिति गम्भीर हैं। वलसाड जिला के कई निजी अस्पतालों में इलाज ले रहे मरीजों को वेंटीलेटर की आवश्यकता पड़ने पर अस्पताल के पास वेंटीलेटर उपलब्ध नहीं होने से मरीजों की स्थिति दयनीय हो जाती हैं। ऐसे में जिला कलेक्टर ने सिविल अस्पताल की ओर से निजी अस्पतालों को वेंटीलेटर लोन पर देने की अनोखी योजना प्रस्तुत की हैं।
जानकारी के अनुसार वलसाड सिविल हॉस्पिटल की ओर से मिलने वाले वेंटीलेटर पर का जिस मरीज के लिए उपयोग होगा निजी अस्पताल उस मरीज वेंटीलेटर का चार्ज नहीं वसूल करेगी इसके बदले निजी अस्पताल को सिविल अस्पताल को मरीज और वेंटीलेटर के उपयोग से जुड़ी सारी जानकारी उपलब्ध करानी होगी। अस्पतालों को वेंटीलेटर लेने के लिए सिविल अस्पताल के एनेस्थीसिया विभाग के एच ओ डी से संपर्क करना होगा इसके बाद अधिकारी अस्पतालों को वेंटिलेटर उपलब्ध कराएगी। साथ ही आकस्मिक संजोग में सिविल की ओर एक टीम निजी अस्पतालों में जाकर परिस्थिति का मुआयना करेगी।
गौरतलब हैं कि वेंटीलेटर के अभाव में निजी अस्पतालों में हो रहे मरीजों की मौत को देखते हुए कलेक्टर आरआर रावल ने इस प्रकार का निर्णय लिया है जो वलसाड के लोगों के लिए एक आशीर्वाद सिद्ध हो सकता है। हाल ही में जिला कलेक्टर ने जिला अस्पतालों में ऑक्सीजन की स्थिति की समीक्षा करने के बाद अधिकारियों को कम से कम 25 ऑक्सीजन वाले बेड की सुविधा तत्काल रुप से तैयार रखने की बात कही थी जिससे आपातकालीन परिस्थितियों में किसी मरीज की ऑक्सीजन या ने संसाधन की कमी के चलते मौत ना हो।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें