देश में बिजली संकट की आशंका के बीच केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में बैठक

अमित शाह (File Photo : IANS)

बैठक में कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी और ऊर्जा मंत्री आरके सिंह सहित एनटीपीसी के वरिष्ठ अधिकारी शामिल

देश के कई राज्यों में बिजली संकट को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में एक बड़ी बैठक हो रही है।  बैठक में कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी और ऊर्जा मंत्री आरके सिंह सहित एनटीपीसी के वरिष्ठ अधिकारी शामिल हैं। गृह मंत्री को कोयला खदान की वर्तमान स्थिति और विवरण के बारे में अधिकारियों द्वारा जानकारी दी जाएगी।
आपको बता दें कि दिल्ली, महाराष्ट्र और पंजाब समेत कई राज्यों ने केंद्र सरकार से मदद मांगी है, जिसने वहां कोयले की कमी के चलते बिजली संकट का मुद्दा उठाया है।वहीं, राज्यों के नागरिकों से बिजली बचाने की अपील की गई है।  लेकिन केंद्र ने कहा कि देश में पर्याप्त कोयला भंडार है और बिजली संकट की आशंका निराधार है।
जानकारी के लिए बता दें कि कोयला मंत्रालय ने रविवार को स्पष्ट किया कि देश में बिजली उत्पादन संयंत्र की मांग को पूरा करने के लिए कोयला भंडार उपलब्ध है। मंत्रालय ने कोयले की कमी के कारण बिजली की कमी की आशंका से इंकार किया है। इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बिजली संकट का मुद्दा उठाते हुए पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा था। हालांकि कोयला मंत्रालय ने तब रविवार को कहा था कि बिजली संयंत्र में करीब 72 लाख टन कोयले का भंडार है, जो चार दिनों के लिए पर्याप्त है.  कोल इंडिया के पास 400 लाख टन का भंडार है जिसकी आपूर्ति बिजली संयंत्र को की जा रही है। देश में कोयले से चलने वाले बिजली उत्पादन में इस साल सितंबर तक 24 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। पावर प्लांट से आपूर्ति मजबूत होने से उत्पादन बढ़ा है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें