'यास' पर पीएम की समीक्षा बैठक में शामिल नहीं हुईं ममता, व्यक्तिगत तौर पर मिलीं

(Photo: IANS)

बैठक शुरू होने के पहले ही वायु सेना स्टेशन निकल गई ममता, तूफान से हुये नुकसान की सौंपी रिपोर्ट

कोलकाता, 28 मई (आईएएनएस)| पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी शुक्रवार को खड़गपुर के पास कलाईकुंडा वायु सेना स्टेशन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा आयोजित एक समीक्षा बैठक में शामिल नहीं हुईं, जिसमें बुधवार को राज्य में आए भीषण चक्रवाती तूफान यास से हुए नुकसान का आकलन किया गया। बैठक से पहले बनर्जी द्वारा व्यक्तिगत रूप से प्रधानमंत्री से मुलाकात करने और उन्हें चक्रवात से हुए नुकसान की एक प्रति सौंपे जाने के बाद से यह समीक्षा बैठक एक राजनीतिक विवाद में बदल गई।
बैठक शुरू होने से पहले ही वह वायु सेना स्टेशन से चली गईं। प्रशासन के सूत्रों ने पुष्टि की कि ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री द्वारा बुलाई गई समीक्षा बैठक से पहले पीएम के साथ एक अलग बैठक करने की बात कही थी। तदनुसार, 15 मिनट का एक स्लॉट बुक किया गया था, जिसके दौरान बनर्जी ने तूफान से मुख्य रूप से तीन जिलों में हुए नुकसान की एक विस्तृत रिपोर्ट पीएम को सौंपी।
हालांकि अभी तक दोनों नेताओं के बीच हुई बैठक को लेकर कोई आधिकारिक ब्रीफिंग नहीं हुई है, लेकिन मुख्यमंत्री के करीबी सूत्रों ने बताया है कि राज्य सरकार ने अपनी रिपोर्ट में प्रस्तुत किया है कि भयंकर चक्रवाती तूफान के कारण बंगाल को 15,000 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। राज्य सरकार के अधिकारियों के अनुसार, तीन जिलों को सबसे अधिक नुकसान का सामना करना पड़ा है और वे हैं - दक्षिण 24 परगना, उत्तर 24 परगना और पूर्वी मिदनापुर। राज्य के तीन प्रमुख पर्यटन केंद्र दीघा, शकरपुर और मंदारमन तूफान से सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं। 15 मिनट की बैठक में बनर्जी ने प्रधानमंत्री को कृषि क्षेत्रों, आवासीय भवनों, तटबंधों और सड़कों को हुए नुकसान के बारे में जानकारी दी।
(Disclaimer: यह खबर सीधे समाचार एजेंसी की सिंडीकेट फीड से पब्लिश हुई है। इसे लोकतेज टीम ने संपादित नहीं किया है।)

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें