महाराष्ट्र : एक और अस्पताल में लगी आग, 11 कोविड-19 मरीजों की हुई मौत

(Photo Credit : ANI)

अहमदनगर के सिविल अस्पताल में शनिवार को आग लग गई

आपने बीते दिनों में कई अस्पतालों में आग लगने की घटना के बारे में सुना होगा। अब महाराष्ट्र के एक और कोविड अस्पताल में आग लगने की घटना सामने आई है। महाराष्ट्र के अहमदनगर के सिविल अस्पताल में शनिवार को आग लग गई जिससे आईसीयू में इलाजरत 11 मरीजों की मौत हो गई। 
आपको बता दें कि ये अपने आप में कोई पहला मामला नहीं है। इसी साल 23 अप्रैल को जब कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर चरम पर थी, तब भी मुंबई से 60 किलोमीटर दूर विरार स्थित विजय वल्लभ अस्पताल में आग लगने से 13 कोविड-19 मरीजों की मौत हो गई थी। इसी तरह का एक हादसा इस साल 26 मार्च को मुंबई के पूर्वी उपनगर भांडुप में हुआ जिसमें 10 कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की मौत हो गई थी। इनके अलावा अस्पताल में आग लगने की कई घटना सामने आ चुकी है।
हादसे के बाद जांच के बाद अनुशंसा की गई कि सरकारी अस्पतालों में प्रशिक्षित इंजीनियरों की तैनाती की जानी चाहिए जो मरम्मत आदि कार्यों के लिए लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) पर निर्भर हैं। स्वास्थ्य अधिकरियों, इंजीनियरों और अग्निशमन अधिकारियों की छह सदस्यीय समिति ने पाया कि भंडारा जिला जनरल अस्पताल के सिक न्यूबॉर्न केयर यूनिट में आग उन्हें गर्म रखने की प्रणाली और बिजली के तारों की प्रणाली से फैली।
वहीं महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस ने मामले पर ट्वीट करते हुए घटना की जांच की मांग की है। उन्होंने लिखा “यह बहुत ही चौंकाने वाली और परेशान करने वाली खबर है. नगर सिविल अस्पताल आईसीयू आग की घटना में अपने प्रियजनों को खोने वाले परिवारों के प्रति मेरी गहरी संवेदना है. घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना है. गहराई से जांच की जानी चाहिए और सभी जिम्मेदार लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए।”
वहीं मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मरने वालों के परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की और उन्हें हर संभव सहायता का आश्वासन दिया

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें