जानें भारत में कहाँ की जाती हैं सोने के औज़ार से शेविंग और क्या है उसकी कीमत!

लोकडाउन के बाद से बंद पड़े धंधे को पटरी पर लाने के लिए निकाली नई तरकीब

हर कोई अपने ग्राहको को आकर्षित करने के लिए नए नए रास्ते अपनाते हैं। कई लोगों को अपने इस तरह के प्रयासों में सफलता मिलती हैं तो कई बार उन्हें असफलता भी प्राप्त होती हैं। खास कर के कोरोना के कारण लगे लोकडाउन के बाद तो कईयों को नए सिरे से अपना काम शुरू करना पड़ा था। ऐसी ही यह कहानी हैं पुणे से कुछ दूर स्थित देहुगांव में सलून चलाने वाले अविनाश बोरुदियाँ और विकी वाघमारे की, जिन्होंने लोकडाउन के बाद से बंद पड़े अपने सलून को फिर चलाने के लिए जो तरकीब निकाली जिससे उनके दुकान के बाहर ग्राहकों की लाइन लग गई। 
लोकडाउन के कई फेज के बाद खुले सलून में लोगों को आकर्षित करने के लिए उन्हों ने सोने के औज़ार से लोगों की दाढ़ी करना शुरू कर दिया। मीडिया के साथ बातचीत करते हुये अविनाश बताया की कोरोना के कारण उनके सलून के कारोबार पर काफी बड़ा संकट आ गया था। ऐसे में अनलॉक में जब सरकार द्वारा सलून खोलने की छूट दी गई तो उन्हें लगा की अब उनका धंधा भी फिर से शुरू हो जाएगा। पर कोरोना के डर के कारण लोग सलून नहीं आते थे। ऐसे में उन्हों ने सोचा की ऐसा तो क्या किया जाए जिससे की उनका सलून सबसे अलग लगे और ग्राहक खुद उनके दरवाजे आकर खड़ा रहे। 
ग्राहकों को बढ़ाने के लिए निकाली अनोखी तरकीब
आखिर उन्हों ने एक तरकीब निकाली, उन्हों ने देखा की पुणे में सभी को सोना काफी ज्यादा पसंद हैं। इसलिए उन्हों ने सोचा की वह अपने सलून में भी सोने के रेजर से ही ग्राहको की शेविंग करेंगे। अविनाश और विकी ने 4 लाख रुपए में सोने का रेजर बनवाया। दोनों का यह आइडिया काम कर गया और पिछले दो महीने से उनकी दुकान के आगे से ग्राहकों की संख्या कम ही नहीं हो रही। 
हालांकि सोने का रेजर बनाना दोनों के लिए आसान बात नहीं थी। इस काम के लिए वह कई सुनारों के पास गए थे। पर सबने उन्हें मना कर दिया। अंत में एक सुनार तैयार हुआ, जिसने 18 केरेट के सोने में से रेजर बनाने की हा कर दी। अविनाश और विकी के सलून में आने वाले सागर नाम के एक युवक का कहना हैं की सोने के औज़ार से शेविंग करवाने का अलग ही मजा हैं। सोने का औज़ार उसके चेहरे पर अलग ही एहसास देता हैं। सोने के औज़ार से शेविंग करवाने के लिए ग्राहक को 100 रुपए देने पड़ते हैं वही सामान्य रेजर से शेविंग करवाने के लिए 70 रुपए। बढ़ती हुई डिमांड को देखते हुये उन्होंने 2 - 3 और भी सोने के रेजर बनाने का निर्णय किया हैं। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें