सेहत: एक गरबा के फायदे अनेक, जानेंगे तो जमकर करेंगे गरबा

(Photo Credit : sandesh.com)

मोटापे, याददाश्त की समस्या, आलास, तनाव और ऐसी कई बीमारियों का दुश्मन है गरबा

अगर आप गरबा खेलने के शौकीन हैं तो आपको बता दें कि आप अपने शौक को पूरा करते हुए खुद को कई बीमारियों से बचा सकते हैं। उन्हीं में से एक है मोटापा। कोरोना वायरस फैलने के बाद भी कई लोग घर पर से ही काम कर रहे हैं। ऐसे कई लोग हैं जो मोटापे से पीड़ित हैं। मोटापा कई बीमारियों का घर है। बता दें कि गरबा खेलने से सेहत को कई तरह के फायदे होते हैं। गरबा एक ऐसा शारीरिक व्यायाम है जो न केवल आपको वजन कम करने में मदद करता है, बल्कि कई बीमारियों को रोकने में भी मदद करता है।आपको बता दें कि पतली कमर पाने के लिए गरबा सबसे अच्छे व्यायामों में से एक है। गरबा में कई स्टेप्स तो ऐसे है जो आपकी कमर को पतला बनाने में बहुत सहायक होते है। साथ ही गरबा की लय मस्तिष्क से हैप्पी हार्मोन का उत्पादन करती है, जो तनाव के स्तर को कम करती है। गरबा खेलने से एक अलग तरह की खुशी मिलती है, जिससे तनाव कम होता है। आंकड़ों की बात करें तो 20 मिनट तक गरबा खेलने से लगभग 250 से 300 कैलोरी बर्न होती है, जिससे वजन कम करना आसान हो जाता है। गरबा को 40 मिनट तक खेलने से करीब 500 कैलोरी बर्न की जा सकती है। गरबा में इंसान अंगों, गर्दन और पूरे शरीर को हिलाता है, इसलिए शरीर में लचीलापन बहुत आसानी से आ जाता है। इससे जोड़ों की अकड़न भी दूर होती है।

आपको बता दें कि अगर 35 वर्ष से अधिक उम्र के लोग उत्साह के साथ गरबा खेलते हैं तो उनकी भूलने की समस्या खत्म हो सकती है। ऐसा माना जाता है कि गरबा खेलने से मस्तिष्क में हिप्पोकैम्पस सिर नियंत्रित होता है और याददाश्त में सुधार होता है। इनके अलावा गरबा मनुष्य के मन को शुद्ध करता है, चेहरे पर चमक लाता है, खुश रखता है और साथ ही व्यक्ति में आत्मविश्वास बढ़ाता है। व्यक्ति में सकारात्मक ऊर्जा को बढ़ाता है और नकारात्मक विचारों को दूर करता है। गरबा एक अच्छा कार्डियो एक्सरसाइज भी है, जो दिल को स्वस्थ रखने में मदद करता है। गरबा फेफड़ों की कार्यक्षमता में सुधार करता है जिससे व्यक्ति को सांस लेने में तकलीफ नहीं होती है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें