गुलाब तूफ़ान : विकराल रूप धर रहा है ये तूफ़ान, छः मछुआरों के लापता होने की खबर

(Photo Credit : twitter.com)

दक्षिणी उड़ीसा और उत्तरी आंध्र प्रदेश के तटीय क्षेत्रों में कलिंगपट्टनम के पास गुलाब के टकराने की आशंका, 70-80 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चल सकती है हवा

भारतीय मौसम विभाग (IMD) द्वारा सुबह जारी चेतावनी के अनुसार गुलाब नाम का तूफान रविवार देर शाम को दक्षिणी ओडिशा और उत्तरी आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों से टकरा सकता है। तजा जानकारी के अनुसार भारत के मौसम विभाग ने सूचित किया कि तूफान ने तट पर दस्तक देना शुरू कर दिया है और यह अगले तीन घंटे में कलिंगपटनम से 25 किलोमीटर उत्तर में तट से गुजरेगा और इसके मध्यरात्रि में तट से टकराने की आशंका है। इस बीच आंध्र प्रदेश के उत्तरी तटीय जिले श्रीकाकुलम से बंगाल की खाड़ी में गए छह मुछआरों के लापता होने की जानकारी मिली है। बिकराल हो रहे गुलाब तूफान की वजह से आंध्र प्रदेश के तीन तटीय जिलों विशाखापत्तनम, विजयनगरम और श्रीकाकुलम में मध्यम दर्जे की बारिश हो रही है।
मौसम विभाग ने सुबह ही आंध्र प्रदेश और ओडिशा में तूफान की चेतावनी जारी कर दी थी। मौसम विभाग के एक वरिष्ठ मौसम विज्ञानी उमाशंकर दास के अनुसार रविवार शाम तक दक्षिणी उड़ीसा और उत्तरी आंध्र प्रदेश के तटीय क्षेत्रों में कलिंगपट्टनम के पास गुलाब के टकराने की आशंका है।इस दौरान 70-80 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है। आंध्र प्रदेश के राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के आयुक्त के कन्ना बाबू ने बताया कि गुलाब तूफान श्रीकाकुलम जिले के कलिंगपटनम से करीब 85 किलोमीटर दूर अवस्थित है और इसके कलिंगपटनम और ओडिशा के गोपालपुर के बीच मध्य रात्रि में तट से टकराने की संभावना है. उन्होंने विशाखापत्तनम में जिलाधिकारियों और अन्य अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की और उन्हें हाई अलर्ट पर रहने का निर्देश दिया.
साथ ही रोज स्टॉर्म के कारण पश्चिम बंगाल में भारी बारिश की संभावना है। कोलकाता, हावड़ा, दक्षिण और उत्तर 24 परगना के साथ पूर्वी मिदनापुर में मंगलवार से भारी बारिश होने का अनुमान है। कोलकाता पुलिस ने तूफान से निपटने के लिए यूनिफाइड कमांड सेंटर नाम से कंट्रोल रूम खोला है। चक्रवात के कारण ओडिशा के कई जिलों में 25 और 28 सितंबर को हल्की बारिश के साथ भारी बारिश की संभावना है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें