गुजरातः विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर भरुच शहर को 12 सीएनजी सिटी बसों की सौगात

मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने भरुच नगर पालिका द्वारा शुरू की गई सिटी बस सेवा का ई-लोकार्पण किया

स्वर्णिम जयंती मुख्यमंत्री शहरी विकास योजना के अंतर्गत मुख्यमंत्री शहरी बस सेवा के तहत भरुच शहर में 9 रूट पर दौड़ेंगी कुल 12 सीएनजी सिटी बसें

क्लाइमेट चेंज की चुनौतियों का सामना करने गुजरात प्रतिबद्धः मुख्यमंत्री
गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर भरुच शहर के नागरिकों को 12 सीएनजी सिटी बस की अहम सौगात दी है।  विजय रूपाणी ने स्वर्णिम जयंती मुख्यमंत्री शहरी विकास योजना के अंतर्गत ‘मुख्यमंत्री शहरी बस सेवा’ के तहत भरुच नगर पालिका द्वारा शुरू की गई सिटी बस सेवा का शनिवार को गांधीनगर से ई-लोकार्पण किया। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि भरुच के लोगों की सुविधा तथा पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए प्रदूषण रोकने के लिए सीएनजी बस सेवा का आज से शुभारंभ किया गया है। भरुच शहर में 9 रुट पर कुल 12 सीएनजी शहरी बस सेवा शहर के नागरिकों के लिए शुरू की गई है। उन्होंने कहा कि पूरा गुजरात पर्यावरण की रक्षा के लिए क्लाइमेट चेंज की चुनौतियों का सामना करने को प्रतिबद्ध है। 
प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी के भरुच और अंकलेश्वर के विकास के लिए उठाए गए महत्वपूर्ण कदमों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि एशिया के सबसे बड़े केमिकल पोर्ट दहेज का विकास भी उनके कार्यकाल के दौरान हुआ है। एलएनजी टर्मिनल और गुजरात नर्मदा वैली फर्टिलाइजर्स एंड केमिकल्स लिमिटेड (जीएनएफसी) सहित कई केमिकल कंपनियों के विकास के मार्फत आधुनिक शहर का स्वरूप दिया है। इसके परिणामस्वरूप भरुच में रोजगार में बढ़ोतरी होने से अनेक लोग आकर बसे हैं और उनके लिए यह शहरी बस सेवा यातायात का सुगम माध्यम बनेगी। 
श्री रूपाणी ने कहा कि गुजरात सरकार ने केंद्र सरकार के सहयोग से यह योजना बनाई है। नगर पालिकाओं में यह बस सेवा शुरू करने के लिए राज्य सरकार 50 फीसदी वित्तीय सहयोग दे रही है जबकि शेष 50 फीसदी खर्च नगर पालिकाओं को खुद वहन करना होगा। 
राज्य की 8 महानगर पालिका और 22 नगर पालिकाओं समेत कुल 30 शहरों में स्वर्णिम जयंती मुख्यमंत्री शहरी विकास योजना के अंतर्गत मुख्यमंत्री शहरी बस सेवा के दृष्टिकोण में अब भरुच शहर भी शामिल हो गया है। उन्होंने कहा कि भरुच में प्रदूषण नियंत्रण, यातायात की समस्या से निजात तथा व्यक्तिगत वाहनों के उपयोग में कमी के उद्देश्य से सार्वजनिक परिवहन की सुविधा विकसित करने पर जोर दे रहे हैं।  श्री रूपाणी ने कहा कि भरुच में सीएनजी बसें शुरू होने से नागरिकों को कम खर्च पर सुरक्षा के साथ आरामदायक यात्रा का लाभ मिलेगा। पर्यावरण की रक्षा के लिए इस तरह की बस सुविधा शुरू करने के लिए उन्होंने भरुच नगर पालिका के सभी पदाधिकारियों और अधिकारियों को बधाई दी। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण काल में राज्य सरकार ने विकास की रफ्तार को थमने नहीं दिया है। कोरोना काल में लगभग 30,000 करोड़ रुपए के कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास किया है।
उन्होंने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर को नियंत्रित करने में सफलता हासिल की है और संभावित तीसरी लहर के आने पर उससे निपटने के लिए गुजरात तैयार है। कोरोना से डरने की नहीं बल्कि सावधानी और सतर्कता की जरूरत है।
सौ फीसदी वैक्सीनेशन के लक्ष्य को पूरा करने की अपील करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना की रोकथाम के लिए वैक्सीनेशन ही एकमात्र उपाय है। गुजरात के सभी जिलों के 18 से 44 आयु समूह के नागरिकों को तेजी से मुफ्त वैक्सीन देने की शुरुआत हो चुकी है। इसके अलावा, 45 या उससे अधिक उम्र के नागरिकों को कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज शीघ्र देने की व्यवस्था भी की गई है। इस अवसर पर भरुच के विधायक  दुष्यंतभाई पटेल, नगर पालिका अध्यक्ष अमितभाई चावड़ा, जिला भाजपा अध्यक्ष  मारुति सिंह अटोदरिया, नपा उपाध्यक्ष श्रीमती नीताबेन, कार्यकारी चेयरमैन  नरेशभाई, सार्वजनिक परिवहन समिति के चेयरमैन चेतनभाई, जिला कलक्टर डॉ. एमडी मोडिया और पार्षदों सहित बड़ी संख्या में अधिकारी और कर्मचारी उपस्थित थे। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें