गिर सोमनाथ : पुलिस ने पेश की मानवता की मिसाल, आत्महत्या कर रही महिला को बचाया

प्रतिकात्मक तस्वीर (Photo : IANS)

पारिवारिक कलह और मानसिक तनाव के कारण आत्महत्या करने आई महिला की जान जांबाज पुलिसकर्मियों की बहादुरी और तत्परता से बच गई

गिर सोमनाथ जिले में पुलिस की सतर्कता और संवेदनशीलता का एक मामला सामने आया है। शुक्रवार शाम एक विवाहित महिला ने समुद्र में कूदकर जान देने की कोशिश की। हालांकि, जांबाज पुलिसकर्मियों की बहादुरी और तत्परता से महिला की जान बच गई है।
इस संबंध में प्राप्त जानकारी के अनुसार शुक्रवार की शाम 4 बजे एक सतर्क नागरिक ने प्रभास पाटन थाने को सूचना दी कि एक महिला सोमनाथ मंदिर के पीछे समुद्र में कूदकर आत्महत्या करने की कोशिश कर रही है। मामले की सूचना मिलते ही प्रभास पाटन के पीआई एस पिगोहिल ने टाउन बीट हेड कांस्टेबल मनोजगिरी को मौके पर जाकर उचित कार्रवाई करने का आदेश दिया। जब वे मौके पर पहुंचे तो देखा कि एक महिला समुद्र में डूब रही है। ये दृश्य देखते हो वो तुरंत समुद्र में कूद गए। डूबती महिला को बाहर निकाल कर पीसीआर वन में थाने लाया गया।
पीड़िता से पूछताछ में पता चला कि महिला ने पारिवारिक कलह के चलते मानसिक तनाव में ये कदम उठाया। अंतत: पुलिस कर्मियों ने महिला को कीमती जीवन का महत्व समझाकर, उसके परिवार के सदस्यों की उपस्थिति में उसके पारिवारिक झगड़ों को सुलझाकर, उसे उसके परिवार से मिला कर और मानवता की एक नेक मिसाल पेश कर एक सराहनीय कार्य किया है।

(आत्महत्या एक गंभीर मनोवैज्ञानिक और सामाजिक समस्या है. अगर आप भी तनाव से गुजर रहे हैं तो भारत सरकार की जीवनसाथी हेल्पलाइन 18002333330 से मदद ले सकते हैं. आपको अपने दोस्तों और रिश्तेदारों से भी बात करनी चाहिए.)

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें