अब से 16 जनवरी को मनाया जाएगा यह खास दिन, प्रधानमंत्री ने की घोषणा

(File Photo : IANS)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को देश में स्टार्टअप इकोसिस्टम को मजबूत करने का आह्वान किया। देश भर के स्टार्टअप्स से बात करते हुए उन्होंने कहा कि स्टार्ट-अप की संस्कृति को देश के कोने-कोने तक पहुंचाने के लिए 16 जनवरी को अब से 'राष्ट्रीय स्टार्टअप दिवस' के रूप में मनाया जाएगा। आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पीएम मोदी ने कहा कि हमारा प्रयास है कि देश में बचपन से ही छात्रों में इनोवेशन को आकर्षित किया जाए। नवाचार को संस्थागत बनने के लिए 9,000 से अधिक अटल टिंकरिंग लैब स्कूल बच्चों को कुछ नया करने, नए विचारों पर काम करने का मौका देंगे।
मोदी सरकार की एक प्रमुख पहल स्टार्टअप इंडिया के छठे वर्ष में, प्रधान मंत्री मोदी ने कृषि, स्वास्थ्य, उद्यम प्रणाली, अंतरिक्ष, उद्योग 4.0, सुरक्षा, फिनटेक और पर्यावरण सहित विभिन्न क्षेत्रों के स्टार्टअप से मुलाकात की । देश के 150 स्टार्टअप्स को छह वर्किंग ग्रुप्स में बांटा गया है। यह समूह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को विभिन्न विषयों पर प्रेजेंटेशन देगा। हर ग्रुप को तय समय के अंदर पीएम मोदी के खिलाफ प्रेजेंटेशन देना होगा। पीएम और स्टार्टअप्स के बीच संवाद का उद्देश्य यह समझना है कि स्टार्टअप कैसे देश की जरूरतों में सफलतापूर्वक योगदान दे सकते हैं।
ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स में सुधार का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि भारत में इनोवेशन पर चल रहे अभियान का असर यह है कि ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स में भारत की रैंकिंग में भी काफी सुधार हुआ है। 2015 में भारत इस रैंकिंग में 81वें स्थान पर था। जबकि नए ग्लोबल इनोवेशन इंडेक्स में भारत अब 46वें स्थान पर है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें