सूरत में खूब बिक रहे इलेक्ट्रिक दुपहिया वाहन, सरकारी सब्सिडी भी आकर्षण का केंद्र

(Photo Credit : twitter.com)

इलेक्ट्रिक व्हिकल्स की खरीदी में सूरत सबसे आगे, 6 महीनों में 1100 से अधिक टू-व्हीलर खरीदे गए

पेट्रोल और डीजल के बढ़ती कीमतों और सरकार द्वारा दी जाने वाली सबसिडी के कारण देशभर में इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री में काफी इजाफा देखने मिला है। हालांकि इन सब में भी राज्य में सबसे अधिक इलेक्ट्रिक व्हिकल्स खरीदने के मामले में सूरत की जनता सबसे आगे हैं। यदि बात करे आरटीओ द्वारा जारी किए गए आंकड़ो के बारे में तो सूरत में अगस्त 2021 से 15 जनवरी 2022 तक 2627 ईवी (इलेक्ट्रिक व्हिकल्स) की बिक्री हो चुकी है। इसमें कार, टू व्हीलर और थ्री व्हीलर सभी का समावेश होता है। 
सूरत में ईवी के पीछे लोग इस तरह दीवाने हुये है की अन्य राज्यों के मुक़ाबले सूरत में दो से आठ गुना तक अधिक ईवी की बिक्री हो रही है। सूरत के बाद दूसरे नंबर पर अहमदाबाद का स्थान है, जहां मात्र 1100 ईवी की ब्रिकी हुई है। यह आंकड़ा सूरत के आंकड़े से आधे से भी कम है। अहमदाबाद के बाद राजकोट और वडोदरा का नंबर है। राजकोट में 460 जबकि वडोदरा में 350 इलेक्ट्रिक व्हिकल बिकी है। 
बता दे की लोगों में इलेक्ट्रिक व्हिकल के प्रति जागरूकता बढ़ाने हेतु सरकार द्वारा टू-व्हीलर पर 20 हजार और कार पर डेढ़ लाख रुपए तक की सब्सिडी घोषित की गई है। इन सब्सिडी का पेमेंट क्लियर करने में भी सूरत काफी आगे है। इलेक्ट्रिक व्हिक्ल्स के लिए जरूरी चार्जिंग पॉइंट्स का काम भी सूरत में काफी तेजी से चल रहा हैसूरत में अब तक चार चार्जिंग पॉइंट बनाए गए है। जबकि अन्य 50 चार्जिंग पॉइंट के लिए अनुमति मिल चुकी है। बता दे की सूरत में जो 2627 इलेक्ट्रिक गाड़ियों का रजिस्ट्रेशन हुआ है, वह सभी सबसिडी के पात्र नहीं है। सरकार द्वारा 1.5 लाख की कीमत का टू-व्हीलर खरीदने पर ही सबसिडी दी जाती है। ज्सिके लिए ग्राहकों को खुद ही ऑनलाइन आवेदन करना पड़ता है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें