द्वारिका : तेज बारिश के बीच गिरी बिजली, जानें क्या हुआ असर

(Photo Credit: twitter.com)

नहीं हुआ कोई नुकसान, लोगों का विश्वास खुद भगवन कृष्ण ने बचाई लोगों की जान

फिलहाल पूरे देश में बारिश का मौसम बना हुआ है। राज्य के अलग-अलग हिस्सों में आंधी के साथ बारिश हो रही है। देश के कई हिस्सों में अवकाशीय बिजली गिरने की घटना भी देखी गई। इस बीच देवभूमि द्वारका में भी आंधी के साथ बारिश हुई। इस दौरान द्वारकाधीश के शिखर ध्वज पर बिजली गिरी। जिसमें झंडा टूट गया। द्वारकाधीश मंदिर के शिखर ध्वज पर बिजली गिरने का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।
आपको बता दें कि द्वारका हिन्दू धर्म के लिए एक बहुत महत्वपूर्ण स्थल है। इसे भगवान् श्रीकृष्ण की नगरी के रूप में जाना जाता है। द्वारका पर लोगों की अटूट आस्था का एक और उदाहरण देखने को मिला है। प्राकृतिक विपदाओं, तूफानों सहित आपदाओं में द्वारकाधीश अपने नगरवासियों की रक्षा कर रहे हैं। इस घटना के बाद इस विश्वास ने और गति पकड़ ली है। 
आपको बता दें कि द्वारका में मेघराज की आंधी के साथ जोरदार बल्लेबाजी चालू थी। कल देवभूमि द्वारका जिले के यात्राधाम द्वारका में मेघराज की कृपा बनी हुई है। द्वारका में गरज के साथ बारिश हो रही थी। इसी दौरान मंदिर पर अवकाशीय बिजली गिरी। इस आकाशीय बिजली से मंदिर का ध्वज क्षतिग्रस्त हो गया। झंडे पर बिजली गिरने का लाइव वीडियो वायरल हो रहा है। हालांकि इस घटना में किसी के हताहत होने की खबर सामने नहीं आई है। किसी को कोई नुकसान नहीं हुआ और अब लोगों का मानना है कि स्वयमं भगवान द्वारकाधीश ने ही द्वारका शहर पर हुए इस प्राकृतिक हमले को टाल कर अपने भक्तों की रक्षा की है।
स्वाभाविक रूप से अगर यह बिजली मंदिर के आसपास के रिहायशी इलाके में गिरती तो भारी जानमाल का नुकसान हो सकता था। वहीं जगतमंदिर के झंडे पर बिजली गिरी और झंडे को मामूली क्षति हुई है। खास बात यह है कि द्वारकाधीश मंदिर के ऊपर फहराने वाले झंडे का विशेष धार्मिक महत्व है। स्थानीय लोगों के मुताबिक ऐसा पहली बार हुआ है जब मंदिर के आसपास बिजली चमकी हो। द्वारका के एसडीएम भटेरिया ने बताया कि दोपहर दो से ढाई बजे के बीच बादल गरजने के साथ तेज बारिश की शुरुआत हुई। इसी बीच बारिश के साथ बिजली गिरी है। बिजली द्वारिकाधीश मंदिर के ध्वजदंड पर गिरी, जिसकी वजह से ध्वजा फटने के साथ-साथ ध्वजदंड भी क्षतिग्रस्त हुआ।" द्वारिकाधीश मंदिर पर बिजली गिरने को लेकर मंदिर प्रशासन से गृहमंत्री अमित शाह ने भी बातचीत की। गृहमंत्री ने मंदिर को हुए नुकसान के बारे में भी जानकारी ली है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें