चक्रवात यास: प्रधानमंत्री शुक्रवार को ओडिशा, बंगाल का दौरा करेंगे

(File Photo : IANS)

पश्चिम बंगाल में करेंगे समीक्षा बैठक, चक्रवात कमजोर होकर डीप डिप्रेशन में बदला

नई दिल्ली, 27 मई (आईएएन)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चक्रवात यास के प्रभाव की समीक्षा करने के लिए शुक्रवार को ओडिशा और पश्चिम बंगाल का दौरा करेंगे, जो अब कमजोर होकर 'डीप डिप्रेशन' में बदल गया है। बाद में, वह ओडिशा के बालसोर, भद्रक, और पश्चिम बंगाल के पूर्वी मेदिनीपुर के प्रभावित क्षेत्रों के हवाई सर्वेक्षण के लिए आगे बढ़ेंगे। प्रधानमंत्री की पश्चिम बंगाल में समीक्षा बैठक करने की भी योजना है।
भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के राष्ट्रीय मौसम पूवार्नुमान केंद्र ने कहा, "बुधवार तड़के ओडिशा के धामरा और बालासोर के बीच लैंडफॉल करने वाला यास रात 11.30 बजे केंद्रित था। 26 मई को दक्षिण झारखंड और उससे सटे उत्तरी आंतरिक ओडिशा में अक्षांश 22.4 डिग्री उत्तर और देशांतर 85.8 डिग्री पूर्व, जमशेदपुर से लगभग 60 किमी पश्चिम-दक्षिण पश्चिम और झारखंड में रांची से 110 किमी दक्षिण दक्षिण-पूर्व में है।"
(Photo : IANS)

अगले 12 घंटों के दौरान चक्रवात के उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और धीरे-धीरे कमजोर पड़ने की संभावना है। आईएमडी की 2.30 बजे की रिपोर्ट के अनुसार, 'यास' के बारे में आखिरी घंटे के बुलेटिन के अनुसार, चक्रवात केंद्र के पास तेज हो गया था, जिसमें लगभग 55-65 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से 75 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही थीं। यह पिछले छह घंटों के दौरान लगभग 13 किमी प्रति घंटे की गति से उत्तर-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ा।
आईएमडी के पूवार्नुमान के अनुसार, दक्षिण झारखंड और इससे सटे उत्तरी ओडिशा में तीन घंटे के दौरान तूफान की हवा की गति धीरे-धीरे कम होकर 40-50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से 60 किमी प्रति घंटे हो जाएगी। अगले 12 घंटों के दौरान राज्य के उत्तरी आंतरिक क्षेत्रों में कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश के साथ तूफान ओडिशा में अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश ला रहा है। पश्चिम बंगाल में, अगले 12 घंटों के दौरान मेदिनीपुर, झारग्राम, बांकुरा में छिटपुट स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा के साथ अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा की संभावना है। अगले 24 घंटों के दौरान झारखंड में अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा, भारी से बहुत भारी वर्षा और छिटपुट स्थानों पर अत्यधिक भारी वर्षा होने की संभावना है।
(Disclaimer: यह खबर सीधे समाचार एजेंसी की सिंडीकेट फीड से पब्लिश हुई है। इसे लोकतेज टीम ने संपादित नहीं किया है।)

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें