कोरोना ने बढ़ाई नई मुसीबत, म्यूकोमायकोसिस के केस बढ़े

प्रतिकात्मक तस्वीर

इम्यूनिटी कम होने की वजह से बढ्ने लगे म्यूकोमायकोसिस के केस

राज्य भर में कोरोना के केसों की स्थिति काफी तेजी से बढ़ रही है। राजकोट में तो इस बीमारी ने तांडव मचा रखा है। बढ़ रहे कोरोना संक्रमण ने अपने एक साथ एक और बीमारी को भी आकार दे दिया है। पूरे विश्व में काफी कम होने वाली बीमारी म्यूकोमायकोसिस का प्रमाण कोरोना के बढ़ते संक्रमण के कारण अचानक से बढ्ने लगा है। फेफड़ों में इन्फेक्शन और उयर खून के गट्टे जाम जाने के अलावा अन्य कई कारणों से लोगों की इम्यूनिटी कम होने के कारण इस रोग के होने का जोखिम बढ़ गया है। 
इसके पहले जब सितंबर-अक्टूबर में कोरोना के केस अपने चरम पर थे, तब भी म्यूकोमायकोसिस के कुछ केस देखने मिले थे। हालांकि दूसरी लहर में बढ़ते हुये संक्रमण के कारण यह रोग काफी तेजी से बढ़ रहा है। डॉक्टरों ने बताया की चेहरे के भाग में सूजन आना, सरदर्द, साइनस का जाम हो जाना, छाती में दर्द होना, उल्टी होना, पेट में दर्द होना जैसे लक्षण म्यूकोमायकोसिस में देखने मिल सकते है। अधिकतर केस में तो मरीज को पता चलने के पहले ही उसके अंदर यह बिममारी काफी तेजी से फ़ेल जाती है। 

यह बीमारी म्यूकामाईसिटीज नाम के जीवाणु से फैलती है, जो की मानव शरीर में प्रवेश करती है। पर शरीर का रोगप्रतिकारक तंत्र उसका नाश कर देता है। पर शरीर की इम्यूनिटी कम होने पर यह बीमारी तेजी से शरीर में फ़ेल जाती है। एक डॉक्टर ने मीडिया से बात करते हुये कहा कि पहले भी उन्होंने इस बीमारी के लिए ऑपरेशन किया है। पर अब यह अधिक गंभीर हो गए है। लोगों को अब बचने की जरूरत है। हालांकि कोरोना की तरह यह बीमारी एक इंसान से अन्य इंसान को नहीं लगती। पर फिर भी इम्यूनिटी शक्ति को मजबूत बनाने के लिए आरोग्यप्रद आहार लेने की सलाह डॉक्टरों द्वारा दी जा रही है। 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें