कोरोना : ओमिक्रोन के संकट को देखते हुए इस देश ने किया वैक्सीनेशन को अनिवार्य, बच्चों को भी लगेगा टीका

वैक्सीन की फाइल तस्वीर

दुनिया पर मंडरा रहा है कोरोना के नए वेरिएंट का खतरा, दिन ब दिन बढ़ रहे हैं मामले

एक बार फिर दुनिया पर कोरोना का संकट जोरों पर है। कोरोना का नया वेरिएंट ओमिक्रोन धीरे धीरे उग्र रूप धारण कर रहा है। ऐसे में कई देशों ने अपने यहां प्रतिबंधों को सख्त कर दिया है। इसी बीच इक्वाडोर सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए अधिकतर नागरिकों के लिए कोविड-19 रोधी वैक्सीन लगवाना अनिवार्य कर दिया। सरकार की ओर से जारी बयान के अनुसार, इक्वाडोर के केवल वो लोग, जिन्हें पहले से स्वास्थ्य संबंधी कोई परेशानी है और वैक्सीन लगने से जिनके स्वास्थ्य पर असर पड़ सकता है, उन्हें ही नए नियम में छूट दी जाएगी,लेकिन इन लोगों के पास इससे जुड़े कागजात होना अनिवार्य है।
आपको बता दें कि सरकार ने इस हफ्ते रेस्तरां, सिनेमा और अन्य सार्वजनिक स्थानों पर जाने के लिए टीकाकरण प्रमाणपत्र  अनिवार्य कर दिया था। इक्वाडोर के पास ‘पूरी आबादी का टीकाकरण करने’ के लिए पर्याप्त वैक्सीन हैं। सरकारी आंकड़ों के अनुसार देश के मंगलवार को 1.73 करोड़ लोगों में से ल लगभग 77 प्रतिशत लोगों को वैक्सीन लग चुकी थी। साथ ही 920,000 से अधिक लोगों को ‘बूस्टर’ खुराक भी दी जा चुकी है। अब तक देश में लगभग 33,600 लोगबकोविड-19 से मर चुके है।
इन सभी के साथ साथ ये देश विश्व में 5 साल और उससे अधिक उम्र के लोगों के टीकाकरण करने वाला ये पहला देश बनने जा रहा है। एक बयान में मंत्रालय ने ऑस्ट्रिया, जर्मनी और ग्रीस जैसे देशों के टीकाकरण अनिवार्य करने की योजना का जिक्र करते हुए कहा कि हाल ही में छुट्टियों के बाद से आईसीयू में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या बढ़ी है जबकि कोस्टा रिका में अदालतों में इसी तरह के आदेश को रोक दिया गया था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें