कोरोना ने बदला लोगों का नजरिया, अब अधिकांश लोगों ने खाना शुरू कर दिया सेहतमंद खाना

प्रतिकात्मक तस्वीर (Photo Credit : Pixabay.com)

मार्केट रिसर्च फर्म मिंटेल इंडिया कंज्यूमर की एक रिपोर्ट में हुआ खुलासा

कोरोना महामारी के दौरान अधिकांश लोगों ने सेहतमंद खाना खाना शुरू कर दिया है। लोगों ने अपने आहार में प्रोटीन और विटामिन की मात्रा बढ़ा दी है। फास्ट फूड और मटन से बनी चीजों से दूरी बनाई गई है। यह खुलासा मार्केट रिसर्च फर्म मिंटेल इंडिया कंज्यूमर की एक रिपोर्ट में हुआ है। इस शोध के अनुसार इस महामारी ने लोगों की जीवन शैली बदल दी है।
आपको बता दें इस शोध के अनुसार, 52% लोग अपनी थाली में नियमित रूप से ब्राउन राइस और ऑर्गेनिक फल रखते हैं। इन में से 50% लोगों ने कहा कि महामारी से पहले हम ये सब चीजें कभी-कभार ही खाते थे। 55% भारतीय आहार में बदलाव के साथ-साथ इम्युनिटी बढ़ाने पर ध्यान दे रहे हैं। कोरोना काल में लोगों ने फिजिकल एक्टिविटी को ज्यादा अहमियत दी है। रिसर्च में 51 फीसदी भारतीयों ने कहा कि 2019 में महामारी के बाद साल 2019 की तुलना में 2020 में हमने हफ्ते में तीन दिन ब्रिस्क वॉकिंग और योगा जैसे एक्सरसाइज करना शुरू किया। 57% लोग जॉगिंग और साइकिलिंग कर रहे हैं।
रिसर्च के मुताबिक साल 2020 से लोगों ने अपनी लाइफस्टाइल में जो बदलाव किए हैं। इसका सीधा असर सेहत पर पड़ता है। मेडिटेशन 20 में से 9 लोगों को अच्छी नींद लेने में मदद करता है। तनाव भी कम होता है। अधिक ऊर्जावान महसूस कर रहा है। मिंटेल इंडिया कंज्यूमर की कंटेंट हेड निधि सिन्हा ने कहा, “लोगों ने महामारी के दौरान स्वस्थ रहने के लिए प्रेरक काम किया है। भारतीय अपने शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के साथ-साथ खान-पान और शारीरिक गतिविधियों पर ध्यान दे रहे हैं। भारतीयों के लाइफस्टाइल को देखते हुए कई कंपनियां हेल्दी खाने-पीने की चीजें बेच रही हैं।
शोध के अनुसार, प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाने में महिलाएं सबसे आगे रही हैं। अपनी इम्युनिटी का ख्याल रखने वालों में 50 फीसदी से ज्यादा महिलाएं हैं। 48% भारतीय विज्ञापन और सोशल मीडिया अभियानों से स्वस्थ रहने के लिए प्रेरित होते हैं। साल 2020 तक 62 फीसदी लोगों ने हेल्दी खाना शुरू कर दिया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें