चार्ल्स शोभराज की जिंदगी आज भी फिल्म निर्माताओं को कर रही आकर्षित

(Photo : IANS)

कई लोग निभा चुके है पर्दे पर क्षोभरज की भूमिका, रणदीप हुड्डा भी है शामिल

मुंबई, 4 अप्रैल (आईएएनएस)| 'बिकिनी किलर' नाम से कुख्यात अंतर्राष्ट्रीय अपराधी चार्ल्स शोभराज अपनी जवानी के दिनों में 'द स्प्लिटिंग किलर' और 'द सर्पेंट' जैसे नामों से भी काफी चर्चित रहा है। उसकी गिरफ्तारी के कई वर्षो बाद भी एक संदिग्ध सीरियल किलर, जालसाज, सुरक्षा व पुलिसकर्मियों की आंखों में धूल झोंककर फरार होने वाले शातिर अपराधी की जिंदगी आज भी फिल्म और ओटीटी निर्माताओं को आकर्षित करती है। शोभराज का जन्मदिन 6 अप्रैल को है। आइए, हम उसके जीवन पर बनी कुछ फिल्मों पर नजर डालते हैं :
द सर्पेट (2021)
नए ओटीटी सीरीज 'द सर्पेंट' के साथ शोभराज का जीवन एक बार सुर्खियों में है। इसमें फ्रांसीसी मूल के अल्जीरियाई अभिनेता तहर रहीम मुख्य भूमिका में हैं जो शोभराज का किरदार निभा रहे हैं। आठ-एपिसोड वाली यह सीरीज शोभराज के जीवन पर आधारित नवीनतम शो है।
इस शो में शोभराज को एक निर्दयी हत्यारे के रूप में दिखाया गया है। इस शो के दूसरे एपिसोड में 'परिस्थितियों के शिकार' के रूप में उसे चित्रित करने की बहुत कम गुंजाइश थी। दूसरे एपिसोड में उसे इस बात पर जोर देते हुए दिखाया गया है कि जब वह 15 साल का था तो उसे लगा कि वास्तव में उसे कोई नहीं चाहता..वह हर चीज से वंचित रहा। हालांकि, 'द सर्पेट' के अधिकांश भाग में शोभराज को एक संगदिल, दानव प्रवृत्ति वाले इंसान के रूप दर्शाया गया है, लेकिन इस सीरीज में कई दृश्यों के माध्यम से उसके मानवीय पहलू को भी दर्शाने की कोशिश की गई है।
स्नेक (अभी रिलीज नहीं हुई)
खबरों के अनुसार, फारुख ढोंडी के शोध और शोभराज के साथ साक्षात्कार के आधार पर सीरीज के तीन सीजन हिंदी और अंग्रेजी में बनाए जाएंगे। यह सीरीज जी5 पर स्ट्रीम होगी।
मैं और चार्ल्स (2015)
चार्ल्स की जीवनी पर आधारित प्रवाल रमन की 2015 में रिलीज हुई फिल्म 'मैं और चार्ल्स' में रणदीप हुड्डा ने लीड रोल किया है। वरिष्ठ पुलिस अफसर आमोद कंठ, जो शोभराज मामले को देख रहे थे, की भूमिका आदिल हुसैन ने निभाई है। यह एक प्रभावशाली फिल्म तो थी, मगर यह बॉक्स ऑफिस पर बेहतर प्रदर्शन नहीं कर पाई।
निर्देशक रमन ने कहा कि वह शोभराज की तत्कालीन इमेज को परदे पर दर्शाना चाहते थे जिसे उन्होंने सार्वजनिक रूप से एंजॉय किया था।
रमन का कहना है, "मैंने उसे हमेशा उसी तरह परदे पर पेश करने का प्रयास किया जिस तरह से उसने योजना बनाई और दुनिया के लिए अपनी छवि को चित्रित किया। वह एक शातिर अपराधी था जो पढ़ा-लिखा था, स्मार्ट भी था, मगर कानून की नजर में गलत रास्ते पर था। वह मुख्य हथियार के रूप में मार्केटिंग और पीआर की वैल्यू को भलीभांति समझाता था। लेकिन उसका यह चित्रण तब विफल हो जाता है, जब कोई स्पष्ट रूप से इस बात का संज्ञान लेता है कि विभिन्न देशों की पुलिस और कानून ने उसे बहिष्कृत कर दिया।"
तिहाड़ जेल से भागने में शोभराज के साथी रिचर्ड थॉमस की भूमिका निभाने वाले अभिनेता एलेक्स ओ'नेल का कहना है कि उनके चरित्र के लिए शोध के दौरान उन्हें इस बात की जानकारी मिली कि शोभराज के आसपास के लोग उनकी संगति से किस कदर प्रभावित थे।
शोभराज, ऑर हाउ टू बी फ्रेंड्स विद ए सीरियल किलर (2004)
वर्ष 2004 में फिनलैंड के फिल्म निर्माता जान वेलमैन ने 'शोभराज, ऑर हाउ टू बी फ्रेंड्स विद ए सीरियल किलर (2004)' नामक डॉक्यूमेंट्री बनाई। फिल्म ने उस समय इस विषय में नए सिरे से रुचि पैदा की, इस तथ्य को देखते हुए कि 22 सितंबर, 2003 को शोभराज को गिरफ्तार किया गया था।
शैडो ऑफ द कोबरा (1989)
यह टीवी फिल्म रिचर्ड नेविल और जूली क्लार्क की पुस्तक 'द लाइफ एंड क्राइम्स ऑफ चार्ल्स शोभराज' पर आधारित है। दो घंटे 45 मिनट की यह टीवी फिल्म दो एपिसोड में विभाजित है। अस्सी के दशक के दर्शकों के लिए पुस्तक की सामग्री को अद्यतन किया गया। फोकस इस बात पर था कि 1970 के दशक के दौरान दक्षिण पूर्व एशिया में पश्चिमी पर्यटकों पर शोभराज ने कैसे हमला किया था।
इस फिल्म में पाकिस्तानी मूल के ब्रिटिश अभिनेता आर्त मलिक ने शोभराज की भूमिका निभाई है। उन्होंने फिल्म में उम्दा काम किया। ऑस्ट्रेलियाई अभिनेत्री हेलेन बुडे ने शोभराज की प्रेमिका मोनिक लेक्लर की भूमिका निभाई।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:


ये भी पढ़ें